Breaking News

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा को मिला बीकेयू से अलग हुए बिलारी गुट का समर्थ

भारतीय किसान यूनियन (बीकेयू) से अलग हुए हरपाल सिंह बिलारी के नेतृत्व वाले धड़े ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा को समर्थन दिया है। बीकेयू (बिलारी) ने कहा कि यात्र जब पश्चिमी उत्तर प्रदेश, हरियाणा और राजस्थान से होकर गुजरेगी, तो वे इसमें भाग लेंगे। यात्रा 7 नवंबर को महाराष्ट्र में दाखिल हुई और उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर से होकर गुजरेगी।
बिलारी के नेतृत्व में संगठन के एक प्रतिनिधिमंडल ने रविवार को दिल्ली में कांग्रेस नेता और यात्रा के अध्यक्ष दिग्विजय सिंह से मुलाकात की और यात्रा में शामिल होने के लिए चर्चा की।
बिलारी ने संवाददाताओं से कहा, “महात्मा गांधी और जेपी आंदोलन के बाद भारत जोड़ो यात्रा समाज में लोकतांत्रिक मूल्यों की रक्षा के लिए एक सार्वजनिक आंदोलन में बदल गई है। यात्रा को आशा की किरण के रूप में देखा जा रहा है, जब देश राजनीतिक, सामाजिक और आर्थिक संकट से गुजर रहा है।”
बिलारी ने उम्मीद जताई कि राहुल गांधी किसानों के कल्याण के लिए काम करेंगे और याद दिलाया कि नई भूमि अधिग्रहण नीति में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका थी, जिसने विकास परियोजनाओं के लिए किसानों को उनकी अधिग्रहीत भूमि का पर्याप्त मुआवजा दिलाने का मार्ग प्रशस्त किया।
बिलारी पश्चिमी उत्तर प्रदेश के एक अनुभवी किसान नेता हैं जिन्होंने बीकेयू नेता महेंद्र सिंह टिकैत के साथ काम किया और उनके विभिन्न आंदोलनों में भाग लिया।
उन्होंने 2011 में महेंद्र सिंह टिकैत के निधन के बाद समान विचारधारा वाले नेताओं के साथ अपना संगठन बनाया। उनके संगठन का पश्चिमी उत्तर प्रदेश, खासकर मुरादाबाद और बरेली मंडलों में अच्छा जनाधार है।
बिलारी को तीन विवादास्पद कृषि बिलों के खिलाफ 13 महीने लंबे किसान आंदोलन के दौरान संयुक्त किसान मोर्चा की 40 सदस्यीय समिति में भी शामिल किया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *