Breaking News

यूपी से फिर आई दिल दहला देने वाली खबर, 14 साल की दलित लड़की की ईंट-पत्थर से हत्या

उत्तर प्रदेश में महिलाओं के खिलाफ हो रहे अत्याचार लगातार बढ़ते ही जा रहे हैं. हाथरस गैंगरेप मामला अभी सुलझा नहीं था कि फिर एक बार दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. वैसे तो प्रदेश के कई जिलों में हाथरस गैंगरेप की मृतक पीड़िता के लिए न्याय की मांग और आरोपियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी सजा की मांग की जा रही है. हाल ही में दिल तोड़ देने वाली खबर भदोही से सामने आई है और यहां भी एक दलित लड़की की बेरहमी से हत्या कर दी गई है. बताया जा रहा है कि नाबालिग लड़की का कत्ल सिर कुचलकर किया गया है.

बलात्कार के बाद कत्ल
नाबालिग बेटी की मौत की खबर सुनकर परिवार का हाल बेसुध है और उनका कहना है कि रेप के बाद बेटी को मारा गया है. घटना भदोही के गोपीगंज कोतवाली क्षेत्र की है. मृतक लड़की की उम्र 14 साल बताई जा रहा है. मिली जानकारी के मुताबिक वह चकराजाराम तिवारीपुर गांव की रहने वाली थी और दोपहर के समय शौच के लिए खेत में गई थी. बेटी जब काफी देर तक घर नहीं लौटी तो परिजन खेत की तरफ गए जहां उन्हें खून से लथपथ बेटी की लाश पड़ी मिली. बेटी का पूरा शरीर खून से सना हुआ देख परिवार हैरान रह गया और उन्हें रेप की आशंका हुई.

ईंट-पत्थर से हत्या
14 साल की दलित लड़की की मौत की खबर सुनकर घटनास्थल पर पुलिस पहुंची. जिस पर परिजनों ने रेप की आशंका जताई और कहा कि रेप के बाद ही बेटी को बेरहमी से कुचल दिया गया. फिलहाल मामले की जांच शुरू हो गई है और फॉरेंसिक एक्सपर्ट और क्राइम ब्रांच की टीम भी पहुंच गई है. बताया जा रहा है कि, लड़की की हत्या ईंट और पत्थरों से की गई है. इस पूरे मामले पर भदोही के पुलिस अधीक्षक राम बदन सिंह ने कहा कि, 14 वर्षीय नाबालिग लड़की की हत्या का मामला सामने आया है और पुलिस रेप व अन्य बिंदुओं पर जांच कर रही है.

आपको बता दें, हाथरस के बाद बलरामपुर में भी दलित लड़कियों के साथ बलात्कार और हत्या का मामले सामने आया था. जिस वजह से प्रदेश ही नहीं बल्कि पूरे देश में गुस्सा है. पुलिस और कानून व्यवस्था पर तमाम सवाल खड़े हो गए हैं और सबसे ज्यादा किरकिरी हाथरस वाले मामले पर हुई है क्योंकि दलित लड़की की लाश को जबरन जला देने से परिजन नाराज हैं और हर कोई पुलिस के इस कदम पर सवाल उठा रहा है. विपक्षी दल भी योगी सरकार पर हमलावर हो चुके हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *