Breaking News

भारत में लॉन्च हुई दुनिया की सबसे सस्ती कोरोना जांच किट, महज 85 घंटे में रिपोर्ट

देशभर में कोरोना वायरस (corona virus) का संक्रमण तेजी से फैल रहा है. हर दिन रिकॉर्डतोड़ नए मामले दर्ज किए जा रहे हैं. कई राज्यों में बढ़ते संक्रमण को देखते हुए फिर से लॉकडाउन लगाया गया है. वहीं विश्व के कई देशों में तेजी से कोविड-19 वैक्सीन (covid 19 vaccine) पर काम किया जा रहा है. जिससे जल्द से जल्द लोगों को जानलेवा बीमारी से राहत दिलाई जा सके. वहीं बुधवार को आईआईटी दिल्ली (IIT Delhi) के वैज्ञानिकों और युवा शोधार्थियों द्वारा बनाई गई सबसे सस्ती कोरोना जांच किट (corona test Kit) को लॉन्च किया गया है. यह किट दुनिया की सबसे सस्ती कोरोना किट होगी.

लॉन्च हुई सबसे सस्ती जांच किट
IIT दिल्ली के वैज्ञानिकों के साथ मिलकर जिस किट को युवा शोधार्थियों ने तैयार किया है उसे केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने लॉन्च किया है. किट का नाम ‘कोरोस्योर आरटी-पीसीआर’ है. जो बाजार में उपलब्ध किट से सबसे ज्यादा सस्ती है.corosure testing kitअब तक बाजार में कोरोना जांच किट खरीदने के लिए लोगों को करीब 4500 रुपये खर्च पड़ने लगते हैं जो हर कोई कर भी नहीं पाता. लेकिन ये किट महज 650 रुपये की है. वैसे इस किट का बेस प्राइस 399 रुपये है लेकिन आइसोलेशन और लैबोरेटरी चार्ज जोड़ने के बाद इसके लिए 650 रुपये का भुगतान करना होगा.

किट की खूबियां

  • महज 399 रुपये की किट में 85 मिनट में आएगी रिपोर्ट
  • किट पूरी तरह स्वदेशी है जिसे हम Made In india भी कह सकते हैं.
  • फिलहाल एक महीने में 20 लाख किटों का निर्माण किया जा रहा है लेकिन इसे बढ़ाकर 50 लाख किया जाएगा.
  • 160 सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं और IMCR ने भी इस पर 100 प्रतिशत सहमति जताई है.
  • इस किट से टेस्ट आम नागरिक खुद नहीं कर सकते. जांच के लिए लैब के साथ बायोलॉजिस्ट होना भी जरूरी है.

मालूम हो इस जांच किट को भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद और भारतीय दवा महानियंत्रक ने ही स्वीकृत किया है. परमिशन मिलने के बाद ही सबसे सस्ती कोरोना जांच किट को लॉन्च किया गया है. इस बारे में आईआईटी के डायरेक्टर प्रो. राव ने खुशी जताते हुए कहा कि, इस किट से देश में पैमाने और लागत दोनों के संदर्भ में कोविड-19 जांच के प्रतिमान बदल जाएंगे. इसके अलावा लोगों को भी राहत मिलेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *