Breaking News

भारत की सबसे लंबी एस्केप टनल का निर्माण काम हुआ पूरा, जानें इससे जुड़ी ये खास बातें

भारतीय रेलवे ने ऊधमपुर, श्रीनगर और बारामूला रेल लिंक यानि यूएसबीआरएल प्रोजेक्ट के तहत कटरा बनिहाल सेक्शन पर भारत की सबसे लंबी (Longest) सुरंग बनाकर एक बड़ी उपलब्धि हासिल की है. ये एस्केप टनल सुम्बर और खारी स्टेशनों के बीच बनाई गई है. इस सुरंग की लंबाई 12.89 किमी. है. यह सुरंग दक्षिण की ओर सुंबर स्टेशन यार्ड और सुरंग टी-50 को जोड़ते हुए उत्तर की ओर खोड़ा गांव में खोड़ा नाला पर ब्रिज नंबर 04 को जोड़ती है.

सुरंग से जुड़ी अहम जानकारी
रेलवे अधिकारियों के मुताबिक आपात स्थिति में बचाव कार्य को सुविधाजनक बनाने के लिए एस्केप टनल (Escape Tunnel) का निर्माण किया गया है. एक सरकारी रिलीज के मुताबिक, ये हिमालय (Himalaya) के रामबन फॉर्मेशन से होकर गुजरती है और इसके अलावा ये चिनाब नदी के खोड़ा, हिंगनी, कुंदन नाला को पार करती है. इस वजह से ये एक चुनौतीपूर्ण कार्य हो गया था. बनिहाल-कटरा मार्ग पर यह चौथी सुरंग है. इस साल जनवरी में 12.75 किलोमीटर लंबी टी-49 सुरंग बनकर तैयार हुई थी. इसका निर्माण न्यू ऑस्ट्रियन टनलिंग मेथड (NATM) ने किया गया है, जो ड्रिल और ब्लास्ट प्रक्रियाओं की एक आधुनिक तकनीक है.

एक सरकारी विज्ञप्ति के मुताबिक, घोड़े की नाल के आकार की एस्केप टनल दक्षिण की ओर सुंबर स्टेशन यार्ड और टनल टी-50 को जोड़ती है. सुंबर में दक्षिण छोर की ऊंचाई लगभग 1400.5 मीटर और उत्तरी छोर की ऊंचाई 1558.84 मीटर है. रेलवे के मुताबिक, टनल टी-49 एक ट्विन ट्यूब टनल है, जिसमें मेन टनल (12.75 किलोमीटर) और एस्केप टनल (12.895 किलोमीटर) शामिल हैं, जो हर क्रॉस पैसेज पर 33 क्रॉस-पासेज से जुड़ी हैं. मुख्य सुरंग खनन पहले ही पूरा हो चुका था और अंतिम चरण का काम तीव्र गति से चल रहा है.

बनिहाल-कटरा खंड का निर्माण USBRL परियोजना के हिस्से के रूप में किया जा रहा है. परियोजना के कुल 272 किलोमीटर में से 161 किलोमीटर को पहले ही चालू और चालू किया जा चुका है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *