Breaking News

बेंगलुरु में भारी बारिश ने मचाई तबाही! रिशद प्रेमजी सहित कई अरबपतियों के घरों के सामने तैरती दिखीं कारें

बेंगलुरु (bengaluru) में पिछले कुछ दिनों से जारी भारी बारिश (Heavy rain) ने तबाही मचा रखी है। शहर के हर कोने में बाढ़ का पानी (flood water in every corner) घुस गया है. न सिर्फ शहर के निचले इलाकों में रहने वाले लोगों के घर डूब गए हैं बल्कि प्रकृति ने अमीरों को भी नहीं बख्शा है. बाढ़ के पानी में सिलिकॉन सिटी (Silicon City) की सबसे एक्सक्लूसिव गेटेड कम्यूनिटी एप्सिलॉन भी पानी में डूब गई है. एप्सिलॉन में देश के दिग्गज अरबपतियों (legendary billionaires) और वर्तमान के कुछ उभरते हुए अरबपतियों के विला हैं. एप्सिलॉन का कोई विला 10 करोड़ से कम का नहीं है. इस पॉश इलाके में विप्रो के चेयरमैन रिशद प्रेमजी (Wipro Chairman Rishad Premji) जैसे पुराने अरबपति तो बायजू रवींद्रन जैसे नए जमाने के स्टार्टअप अरबपति रहते हैं।

एक खबर के मुताबिक ब्रिटानिया के सीईओ वरुण बेरी, बिग बास्केट के सह-संस्थापक अभिनय चौधरी और पेज इंडस्ट्रीज के एमडी अशोक जीनोमल उन चुनिंदा 150 लोगों में शामिल हैं जिनका यहां आलीशान बंगला है. लेकिन रातों-रात स्वप्नलोक एप्सिलॉन दलदली गंदगी में बदल गया. यहां के कई अरबपतियों के परिवारों को ट्रेक्टर की मदद से बाहर निकाला गया है. अरबपतियों के बंगले के सामने कई कारें पानी में तैरती हुई दिख रही हैं। सोशल मीडिया पर कई ऐसे वीडियो पोस्ट किए गए हैं जिनमें देखा जा रहा है कि इन करोड़ों के बगले के सामने जर्मनी, इटली की करोड़ों का कारें तैर रही हैं. अनएकेडमी के सीईओ गौरव मुंजाल ने ट्वीट किया, “हमारी सोसाइटी पानी में डूब गई है. मेरे परिवार और पालतू जानवर एल्बस को ट्रेक्टर से निकाला गया है. चीजें खराब है. कृप्या ध्यान दें।”

एप्सिलॉन में रहने वाले अधिकतर अरबपति रविवार रात हुई मूसलाधार बारिश के बाद अपने करोड़ों के घरों को छोड़कर नाव और ट्रैक्टर से निकल गए हैं. बारिश के चलते यहां पानी और बिजली कटौती भी कर दी गई थी. मंगलवार को एप्सिलॉन और पड़ोस की गेटेड कम्यूनिटी के आगे कई कारें तैरती हुई नजर आईं. खबर के मुताबिक एप्सिलॉन में एक सामान्य विला की कीमत 10 करोड़ रुपये हैं. प्लॉट के साइज के आधार पर कीमत 20 से 30 करोड़ रुपये तक भी है. एक एकड़ प्लॉट की कीमत 80 करोड़ रुपये तक बताई जा रही है. लेकिन इतने महंगे घरों को भी कुदरत नहीं बख्शता है और जब कुदरत का कहर आता है तो इन घरों में पानी घुसना आम बात है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *