Breaking News

बांग्लादेश में दुर्गा पूजा के दौरान हिंसा, विश्व हिंदू परिषद ने की ये मांग

विश्व हिंदू परिषद (VHP) ने बांग्लादेश में नवरात्रि पर मंदिरों और देवी देवताओं की मूर्तियों पर हमले की घटनाओं की निंदा की और जिहादियों पर कार्रवाई की मांग की. वीएचपी ने कहा, बांग्लादेश सरकार हिंदुओं की रक्षा करे. विहिप के केंद्रीय महासचिव मिलिंद परांडे ने गुरुवार को कहा, रात के अंधेरे में चटगांव मंडल के कोमिला क्षेत्र में षड्यंत्रपूर्वक कुरान के अपमान की बात फैलाई गई. इसके बाद हमलावरों ने कई जगहों पर दुर्गा पूजा पंडालों पर हमला किया, मंदिरों में तोड़ फोड़ की गई. हिंदू समाज इस घटना से दुखी है. ऐसी खबरें हैं कि हिंदू अल्पसंख्यकों पर क्रूर अत्याचार और उत्पीड़न का सिलसिला जारी है.

2 हिंदुओं की मौत की खबर

मिलिंद परांडे ने कहा, मंदिरों पर हमले में 2 हिंदुओं के मारे जाने की खबर है. जबकि 500 लोग जख्मी हुए हैं. बांग्लादेश में कई अन्य स्थानों पर दुर्गा पूजा उत्सव के दौरान दिव्य प्रतिमाओं के अपमान की घटनाएं हुई हैं. वहां की स्थिति और खराब होने की संभावना है क्योंकि स्थानीय आतंकवादी संगठनों द्वारा इस तरह के हमले करने की कथित अपील के बाद हिंदुओं पर और हमले होने की आशंका है. उन्होंने कहा, इससे बांग्लादेश का अल्पसंख्यक समुदाय और भी ज्यादा डरा हुआ है. बांग्लादेश सरकार को अपने अल्पसंख्यक हिंदुओं की सुरक्षा सुनिश्चित करते हुए, कट्टरपंथी जिहादियों पर अंकुश लगाना चाहिए. इसके अलावा मृतक हिंदुओं और जिन हिंदुओं की संपत्ति को नुकसान पहुंचा है या जो लोग घायल हैं, उन्हें मुआवजा मिलना चाहिए.

यूएन पर उठाए सवाल

इतना ही नहीं मिलिंद परांडे ने कहा, भारत सरकार और अंतरराष्ट्रीय समुदाय को बांग्लादेश की सरकार पर दबाव डालना चाहिए, ताकि हिंदुओं की रक्षा और उनकी संपत्ति की सुरक्षा को लेकर उचित कार्यवाही की जाए. उन्होंने इस मुद्दे पर यूएन की चुप्पी पर भी सवाल उठाए. उन्होंने कहा, जब भी हिंदुओं के मानवाधिकारों की बात आती है, ये संगठन कार्रवाई करने से क्यों शर्माते हैं. मिलिंद परांडे ने भरोसा दिलाया कि वीएचपी के साथ साथ पूरा हिंदू समुदाय बांग्लादेश के हिंदुओं के साथ खड़ा है और उन्हें हर संभव मदद दिलाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *