Breaking News

पैसों को लेकर पति-पत्नी ने की थी बुजुर्ग महिला की हत्या, शव के किए थे कई टुकड़े

राजधानी दिल्ली(Delhi) से एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। जहां एक बुजुर्ग महिला की बड़ी बेरहमी से हत्या(Murder) कर दी गई। वहीं इस मामले में पुलिस( Police) ने पति-पत्नी के जोड़े को गिरफ्तार कर लिया है।

दरअसल, आरोपी पति-पत्नी ने बुजुर्ग महिला से एक लाख रुपए उधार लिए थे। बुजुर्ग महिला अपने पैसे वापस मांग रही थी जिससे नाराज दंपत्ति ने महिला को मौत के घाट उतार दिया।

30 जून को हुई थी हत्या

बता दें कि यह मामला पिछले महीने की 30 जून का है जब दिल्ली के मोहन गार्डन में 65 साल की एक बुजुर्ग महिला कविता ग्रोवर की गला दबाकर हत्या कर दी गई थी। इस वारदात को पड़ोस में रहने वाले पति-पत्नी ने अंजाम दिया था। उस दिन बुजुर्ग महिला का बेटा और बहू अपने घर हरियाणा गए थे। ऐसे में मौके का फायदा उठाते हुए दोनों ने पहले महिला की निर्मम तरीके से हत्या कि फिर धारदार हथियार से शव के कई टुकड़े किए।

शव के किए कई टुकड़े

उसके बाद शव के टुकड़ो को 3 बैग में भरकर उन्हें नजफगढ़ के नाले में फेंक दिया। इस घटना को अंजाम देने के चार दिन बाद दोनों उत्तराखंड चले गए। जब महिला के परिजन वापस घर लौटे तो देखा कि मां घर पर नहीं है। जिसके बाद उन्होंने महिला की गुमशुदगी की रिपोर्ट थाने में दर्ज कराई तो पुलिस ने किडनैपिंग का केस दर्ज करते हुए टीम के साथ उनकी खोजबीन शुरू की।

पति-पत्नी पर पुलिस को हुआ शक

इसी दौरान पुलिस को पता चला की पड़ोस में रहने वाले पति-पत्नी भी अपने घर पर नहीं हैं। जिसके बाद पुलिस को दोनों पर शक हुआ। पुलिस को उनकी आखिरी लोकेशन उत्तराखंड के रानीखेत की मिली। पुलिस जब वहां पहुंची तो दोनों आरोपी लगातार अपनी लोकेशन बदलते रहे। उनकी आखिरी लोकेशन पुलिस को बरेली में मिली, जहां दोनों ने अपना फोन स्विच ऑफ कर लिया।

बरेली से हुए गिरफ्तार

वहीं जांच में आरोपी जिस गाड़ी से सफर कर रहे थे उसका नंबर एक टोल नाके पर लगे सीसीटीवी से मिला। इसके बाद पुलिस उस नंबर पर रजिस्टर्ड पते पर पहुंची जहां दोनों आरोपी छुपे हुए थे। जिसके बाद पुलिस ने बरेली पहुंचकर दोनों पति-पत्नी को गिरफ्तार कर लिया। दोनों पति-पत्नी की पहचान अनिल आर्य(Anil aarya) (37) और पत्नी कामिनी(Kamini) (30) के तौर पर हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *