Breaking News

पाकिस्तान में पेट्रोल और डीजल में भारी गिरावट, जानिए क्या है कीमत

पाकिस्तान ने एक चौंकाने वाला फैसला लिया है। पाकिस्तानी सरकार ने पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतों में भारी कटौती की घोषणा की है। जनता को राहत देते हुए वहां सरकार द्वारा पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतों में 15 से 38 फीसदी तक की कटौती की गई है। नई दरें एक मई से लागू हो गई हैं।

इतना सस्ता हुआ पेट्रोल-डीजल
कच्चे तेल की कीमतों में जबरदस्त गिरावट का लाभ अपनी जनता तक पहुंचाने के लिए पाकिस्तान ने कीमतें घटाने का यह फैसला लिया है। डॉन की रिपोर्ट के अनुसार, इस फैसले से पाकिस्तान में पेट्रोल की कीमतों में 15 रुपये और डीजल की कीमतों में 27 रुपये की गिरावट आई है।
सरकार ने पेट्रोल की एक्स-डीपो कीमत 81.58 रुपये प्रति लीटर तय की है। साथ ही सरकार ने इस पर टैक्स में 5.68 रुपये प्रति लीटर का इजाफा किया है। डीजल की बात करें, तो सरकार ने स्पीड डीजल की एक्स-डीपो कीमत 80.10 रुपये प्रति लीटर तय की है। इसमें 27.14 रुपये की गिरावट आई है। साथ ही इसके  टैक्स में 6.79 रुपये प्रति लीटर का इजाफा किया गया है। केरोसीन की एक्स-डीपो कीमत 47.44 रुपये प्रति लीटर तय की है। इसमें 30.01 रुपये की गिरावट आई है। केरोसीन के टैक्स में 14.06 रुपये प्रति लीटर का इजाफा हुआ है।

इतना रहा क्रूड ऑयल का वायदा भाव
शुक्रवार सुबह वेस्ट टेक्सास इंटरमीडिएट (WTI) क्रूड ऑयल और ब्रेंट क्रूड ऑयल दोनों के ही फ्यूचर भाव में तेजी देखने को मिल रही है। डब्ल्यूटीआई क्रूड ऑयल का वायदा भाव सुबह 0.64 डॉलर की बढ़त के साथ 19.51 डॉलर प्रति बैरल पर ट्रेंड कर रहा था। वहीं, ब्रेंट ऑयल का फ्यूचर भाव 0.32 डॉलर की बढ़त के साथ 26.80 डॉलर प्रति बैरल पर ट्रेंड कर रहा था।

भारत में इतना है दाम 
भारत की बात करें, तो यहां लॉकडाउन की वजह कई दिनों से पेट्रोल-डीजल के दाम स्थिर हैं। देश में आवाजाही ठप है और पेट्रोल-डीजल की मांग अब भी धड़ाम है।

आईओसीएल की वेबसाइट के अनुसार, आज दिल्ली, कोलकाता मुंबई और चेन्नई में एक लीटर पेट्रोल की कीमत क्रमश: 69.59, 73.30, 76.31 और 72.28 रुपये है। डीजल की बात करें, तो दिल्ली, कोलकाता मुंबई और चेन्नई में इसका दाम क्रमश: 62.29, 65.62, 66.21 और 65.71 रुपये है।

भारत की निर्भरता ब्रेंट क्रूड की सप्लाई पर
मालूम हो कि भारत की निर्भरता ब्रेंट क्रूड की सप्लाई पर है, ना कि डब्ल्यूटीआई पर। इसलिए भारत पर अमेरिकी क्रूड के दाम में कमी होने का खास असर नहीं पड़ेगा। यानी अंतरराष्ट्रीय बाजार में डब्ल्यूटीआई की कीमत भले ही सस्ती हो जाए, लेकिन आपको पेट्रोल की कीमत ज्यादा ही चुकानी होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *