Breaking News

पहले हाथरस, बलरामपुर और अब आजमगढ़ में छह साल की मासूम हुई हैवानियत की शिकार, पीड़िता की हालत नाजुक !

यूपी में कानून व्यवस्था पूरी तरह से ध्वस्त हो चुकी है। हाथरस और बलरामपुर के बाद आजमगढ़ में एक छः वर्षीय मासूम से दरिंदगी का मामला सामने आया है।

जानकारी के मुताबिक आजमगढ़ में एक हैवान ने छह वर्ष की मासूम को अपनी हवस का शिकार बना डाला। खून से लथपथ बच्ची को महिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी हालत नाजुक बनी हुई है। बहरहाल पुलिस ने आरोपित युवक दानिश को गिरफ्तार कर लिया है। घटना को लेकर पूरे गांव में आक्रोश व्याप्त है। आजमगढ जिले के जीयनपुर कोतवाली क्षेत्र में आरोपित दानिश छह साल की मासूम को खेलाने के लिए अपने साथ ले गया। वह अक्सर ही ऐसा किया करता था इसलिए बच्ची की मां क्या किसी को भी उसपर शक नहीं हुआ। लेकिन उसने घर ले जाकर बच्ची के साथ अपनी हवस की आग बुझाई। खून से लथपथ बच्ची घर पहुंची तो परिवार के लोगों के पावों तले जमीन ही खिसक गई। बच्ची की हालत देख मां तो एकदम से बेसुध हो गई। बच्ची को आननफानन में अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहा बच्ची की हालत नाजुक बनी हुई हैं.

गौरतलब है कि अभी प्रदेश के हाथरस जिले में दलित युवती के साथ हुए गैंगरेप और हत्या का मामला गर्म है। ऐसे में पहले बलरामपुर और अब आजमगढ़ में रेप का मामला सामने आया है। बलरामपुर जिले में भी दलित युवती के साथ गैंगरेप हुआ। यहां अनुसूचित जाति की एक लड़की के साथ दो युवकों ने दुष्कर्म किया।

आरोपियों ने वारदात को ऐसे वहशीपन से अंजाम दिया कि पीड़िता की अस्पताल ले जाते समय मौत हो गई। बलरामपुर के पुलिस अधीक्षक देव रंजन वर्मा ने कहा कि घटना जिले के गैसड़ी क्षेत्र में हुई जहां 22 वर्षीय दलित लड़की एक निजी कंपनी में काम करती थी। मंगलवार की शाम जब वह समय पर घर नहीं पहुंची तब उसके माता-पिता ने उसकी तलाश शुरू की।

पुलिस ने कहा कि लड़की के माता- पिता ने बताया कि लड़की बाद में एक ऑटो रिक्शा से घर पहुंची। वर्मा ने कहा कि लड़की की हालत गंभीर थी और उसके माता-पिता उसे अस्पताल ले जाने लगे लेकिन रास्ते में लड़की की मौत हो गई। उसके परिजनों का आरोप है कि लड़की के साथ गैंगरेप किया गया है। शिकायत के आधार पर शाहिद और साहिल नाम के दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

वहीं, हाथरस जिले में गत 14 सितंबर को कथित रूप से सामूहिक बलात्कार और गला दबाये जाने की घटना की शिकार हुई 19 वर्षीय दलित लड़की ने मंगलवार सुबह दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में दम तोड़ दिया था। जिसके बाद पीड़िता के घरवालों ने पुलिस पर युवती का जबरन अंतिम संस्कार करने का आरोप लगाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *