Breaking News

पत्नी ने पति से की मारपीट, थाने पहुंचने पर बोला गया- शंख बजाओ, जानिए पूरा मामला

उत्तर प्रदेश के मेरठ स्थित नौचंदी थाना अक्सर सुर्खियों में रहता है. वजह रहती है एसएचओ प्रेमचंद शर्मा का व्यवहार. नौचंदी के थानेदार प्रेमचंद शर्मा थाने में फरियादी को चंदन का टीका लगाकर फरियाद सुनने के कारण चर्चाओं में रहे और फिर होली पर फरियादी को गंगाजल देने के कारण खबरों में आए. अब नौचंदी के थानेदार फिर चर्चा में हैं. दरअसल, एसएचओ प्रेमचंद पर आरोप है कि एक पारिवारिक विवाद में उन्होंने कानूनी कार्रवाई करने की जगह पीड़ित से कहा कि गायत्री मंत्र का जाप किया करो, हरिद्वार चले जाओ, तिलक लगाया करो. यही नहीं उन्होंने पीड़ित को अपने हाथ से गायत्री मंत्र लिख कर भी दिया और उससे 108 बार गायत्री मंत्र का जाप करने के लिए कहा.

जिसके बाद एसएचओ के इस व्यवहार की शिकायत लेकर पीड़ित अपने वकील के साथ मेरठ के आईजी कार्यालय पर पहुंचा और मेरठ के आईजी से गुहार लगाई. थानेदार कार्रवाई करने के बजाय गायत्री मंत्र पाठ पढ़ने की सलाह देते हैं. पीड़ित के वकील राम कुमार का कहना है कि आईजी साहब ने पीड़ित का मुकदमा लिखने का आश्वासन दिया है. शास्त्री नगर के रहने वाले हेमंत गोयल नाम का शख्स जिसकी उम्र लगभग 58 साल है, उनका अपनी पत्नी से विवाद चल रहा है. हेमंत गोयल का आरोप है कि वह अकेले रहते थे और उनकी पड़ोस की रहने वाली महिला ने उनको सविता नाम की महिला से मिलवाया जिसका तलाक हो चुका थी और एक 19 साल का बेटा भी था.

हेमंत गोयल का कहना है उन्हें षड्यंत्र के तहत फंसाकर महिला ने उनसे शादी कर ली, उन्होंने भी बुढ़ापे को देखते हुए सविता से अक्टूबर 2020 में शादी कर ली. लेकिन शादी के बाद पति-पत्नी का विवाद होने लगा और उनकी पत्नी और सौतेला बेटा मिलकर उनसे मारपीट करने लगे और बार-बार पैसे देने का दबाव बनाने लगे. इसी बात की शिकायत लेकर वह मेरठ के नौचंदी थाना गए थे और नौचंदी थाने के एसएचओ प्रेमचंद शर्मा से शिकायत की थी. हेमंत गोयल का आरोप है कि नौचंदी थाने के थानेदार ने उनकी शिकायत सुनने के बाद उस पर कोई कानूनी कार्रवाई नहीं की बल्कि उन्हें सलाह दी कि शंख बजाइए, तिलक लगाइए, गंगाजल का छिड़काव करें और गायत्री मंत्र का जाप करें, साथ ही सलाह दी कि हरिद्वार जाकर गायत्री आश्रम में रहें. भगवान का ध्यान करें. सब समस्याएं ठीक हो जाएंगी.

हेमंत गोयल के वकील राम कुमार का कहना है कि एसएचओ की वजह से हेमंत गोयल तीन बार पिट चुके हैं और जब तीसरी बार पीटने के बाद हेमंत गोयल अपनी शिकायत लेकर थाने पहुंचे तो एसएचओ ने अपने हाथों से गायत्री मंत्र लिखकर हेमंत गोयल को दिया और कहा कि 108 बार जाप करो सब ठीक हो जाएगा. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि तुम्हारे पूजा-पाठ में कोई कमी रह गई है, ठीक से पूजा करो, सब ठीक हो जाएगा. वहीं पीड़ित हेमंत गोयल ने मीडिया के सामने अपनी पीड़ा बताते हुए कहा कि उनकी पत्नी और सौतेले बेटे द्वारा उनके साथ मारपीट की जाती है और उन्हें घर से निकाल दिया गया है. उनके घर पर कब्जा कर लिया गया है. उनका कहना है कि उनकी शादी सविता कौशिक से जबरन कराई गई थी. उनका कहना है कि बुढ़ापे में सहारे की वजह से उन्होंने शादी की थी और जब इसकी शिकायत लेकर वह थानेदार साहब के पास पहुंचे तो उन्होंने उनको बिठाया और कहा कि गायत्री मंत्र का जाप किया करो, क्योंकि दुनिया में बस यही है इसी से शांति मिलेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *