Breaking News

पढ़ी-लिखी युवती की महामारी के दौरान गई थी नौकरी- पैसे कमाने के लिए चुना गलत रास्ता, अब हो गई जेल

27 साल की सयाली काले, पुणे के पास पिंपरी चिंचवड इलाके रहने वाली एक पढ़ी-लिखी युवती है और उसकी अच्छी खासी नौकरी भी थी. महामारी के दौरान नौकरी चले जाने से गुजारा कैसे करे, ये सवाल खड़ा हो गया. अब सायली पर आरोप लगे हैं कि पैसे कमाने के लिए उसने गलत रास्ता चुना, जिसके कारण उसे जेल जाना पड़ा. सयाली काले ने डेटिंग ऐप के जरिए 16 युवाओं को प्यार के जाल में फंसाया. चेन्नई के अशीष कुमार ने पिछले हफ्ते पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी. सयाली ने डेटिंग ऐप के जरिए अशीष कुमार से जान-पहचान की थी. उसके बाद उसे पुणे बुलाया और एक होटल में जाने के बाद, अशीष कुमार को कोल्डड्रिंक में नशीली चीज घोलकर पिला दी. फिर उसके शरीर से गहने और नकद राशि लूट ली, ऐसी शिकायत दर्ज की गई है.


इस मामले को लेकर अधिक जानकारी देते हुए पिंपरी चिंचवड़ शहर के कमिश्नर श्री कृष्ण प्रकाश ने बताया के इस वारदात में गिरफ़्तार की गई महिला अपराधी का नाम सयाली उर्फ (शिखा) काले है जो सोशल मीडिया के टिंडर और बंबल डेटिंग ऐप से युवाओं के संपर्क में आती थी और उनसे जान पहचान बनाकर संपर्क बढ़ाती थी. उसके बाद उनके घर मे दाख़िल होकर खाने-पीने की चीजों में बेहोशी की दवा मिलाकर घर से क़ीमती सामान चुराती थी. इस तरह से उसने पिंपरी चिंचवड़ और आसपास के इलाकों में क़रीब 16 अपराधिक वारदातों को अंजाम दिया है जिसके बाद बड़े ही शातिर तरीक़े से क्राइम ब्रांच यूनिट 4 ने उसे मंगलवार को गिरफ़्तार किया है.

पुलिस द्वारा की गई कड़ी पूछताछ में पता चला है कि 16 युवाओं को किस तरह प्यार के जाल में फंसाकर लूटा है. पुलिस ने अपील की है कि सयाली ने जिस किसी के साथ धोखा किया है वह सामने आए और इसकी शिकायत दर्ज करवाए. चार लोगों ने उसके खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है. पुलिस ने अब तक इस महिला से सोने के गहने और क़ीमती सामान मिलाकर 15,25,000 क़ीमत का चोरी का माल बरामद किया है. पुलिस यह भी जांच कर रही है कि इस डेटिंग ऐप की मदद से इस महिला ने उन 16 लोगों के अलावा क्या और भी लोगों को अपना शिकार बनाया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *