Breaking News

‘नूरजहां’ बन गयी हजारी, शौकीन दीवानों ने पहले ही लगा दी बोली…

मध्यप्रदेश के अलीराजपुर में एक ऐसा प्रजाति का आम है जिसकी कीमत सुन कर लोग हैरान हो जाएंगे। मध्य प्रदेश के अलीराजपुर जिले में उगाए जाने वाले ‘नूरजहां’ आम की कीमत पिछले साल की तुलना में अच्छी उपज और बड़े आकार के फल के कारण इस साल अधिक कीमत मिल रही हैं। इस बार एक आम की कीमत एक हजार रूपये तक पहुंच गयी है। बागीचे के मालिक किसान ने बताया कि इस मौसम में ‘नूरजहां’ आम की कीमत 500 से 1,000 रुपये के बीच है। पिछले साल के विपरीत इस बार आम की नूरजहां किस्म की पैदावार अनुकूल मौसम की स्थिति के कारण अच्छी रही है। अफगानिस्तानी मूल की मानी जाने वाली आम की प्रजाति नूरजहां के गिने-चुने पेड़ मध्य प्रदेश के अलीराजपुर जिले के कट्ठीवाड़ा क्षेत्र में पाये जाते हैं। यह इलाका गुजरात से सटा है। आम के पैदावार और आकार के लिए यह क्षेत्र बहुत ही प्रसिद्ध है। इंदौर से करीब 250 किलोमीटर दूर कट्ठीवाड़ा के आम उत्पादक शिवराज सिंह जाधव ने बताया कि मेरे बाग में नूरजहां आम के तीन पेड़ों पर कुल 250 फल लगे हैं। इनकी बुकिंग काफी पहले ही हो चुकी है। लोगों ने नूरजहां के एक आम की 500 से 1,000 रुपये के बीच कीमत लगाई है।

उन्होंने बताया कि नूरजहां आम की अग्रिम बुकिंग करने वाले लोगों में मध्य प्रदेश के साथ ही पड़ोसी गुजरात के शौकीन शामिल हैं। इस बार नूरजहां आम के फलों का वजन दो से साढ़े तीन किलोग्राम के बीच रहने वाला है। दो किलोग्राम के लगभग सभी आम होते हैं। तीन किलोग्राम के आम को अच्छा माना जाता है। कट्ठीवाड़ा में नूरजहां की बागवानी के विशेषज्ञ इशाक मंसूरी ने बताया कि इस बार नूरजहां की फसल तो अच्छी हुई है लेकिन कोविड-19 के प्रकोप के कारण आमों के कारोबार पर थोड़ा असर पड़ा है।

उन्होंने बताया कि वर्ष 2020 में नूरजहां के पेड़ों पर संभवतः जलवायु परिवर्तन के दुष्प्रभावों के कारण बौर (आम के फूल) ही नहीं आए थे, जिससे नुकसान हुआ था। आम के शौकीनों को नूरजहां आम के खास स्वाद से वंचित रहना पड़ा था। मंसूरी ने बताया कि वर्ष 2019 में नूरजहां के फलों का वजन औसतन 2.75 किलोग्राम के आसपास रहा था। तब खरीदारों ने इसके केवल एक फल के बदले 1,200 रुपये तक की ऊंची कीमत चुकाई थी। उन्होंने बताया कि आम जितना बड़ा होगा, उतनी ही अधिक कीमत होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *