Breaking News

द्वारीखाल ब्लॉक प्रमुख महेंद्र राणा ने छोड़ा कांग्रेस का दामन

25 सालों तक कांग्रेस के सक्रिय सदस्य रहे और पौड़ी जिले की द्वारीखाल ब्लॉक प्रमुख महेन्द्र राणा ने भी आखिरकार कांग्रेस का दामन छोड़ दिया। उन्होंने बुधवार को विधिवत रूप से कांग्रेस पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है।

सोनिया गांधी को प्रेषित पत्र में महेंद्र राणा ने राणा लिखा है कि वे उत्तराखंड प्रदेश में 25 वर्षों से लगातार कांग्रेस के सक्रिय सदस्य रहे हैं। इतना ही नहीं विगत 15 वर्षों से पार्टी संगठन में विभिन्न पदों पर रहते हुए पार्टी संगठन में अपना योगदान देते आ रहे हैं। वर्तमान में अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सदस्य और प्रदेश महामंत्री के रूप में वे तन-मन-धन से पार्टी संगठन की सेवा कर रहे थे।

बताया जा रहा है कि राणा ने 2017 और 2022 के विधानसभा चुनाव में यमकेश्वर विधानसभा सीट से टिकट की दावेदारी की थी, लेकिन संगठन ने उन्हें टिकट नहीं दिया। महेंद्र राणा ने पत्र में आगे लिखा है कि मौजूदा समय में उत्तराखण्ड प्रदेश कांग्रेस संगठन में जिस प्रकार गुटबाजी चल रही है और पुराने कार्यकर्ताओं की घोर उपेक्षा की जा रही है, उससे ऐसा प्रतीत होता है कि कांग्रेस पार्टी संगठन में निष्ठावान एवं कर्मठ कार्यकर्ताओं की बजाय चाटुकारिता और भाई-भतीजावाद को तरजीह दी जा रही है। जिससे उनके जैसे निष्ठावान कार्यकर्ता आहत हैं.कांग्रेस में लंबी संगठनात्मक सेवा के उपरान्त अपनी घोर उपेक्षा और संगठन में चल रही गुटबाजी से आहत होकर वे कांग्रेस पार्टी के सभी पदों और पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से त्यागपत्र दे रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *