Breaking News

ताइवान पर हमले के खिलाफ चीन पर भड़का अमेरिका, शी जिनपिंग को दे डाली ये चेतावनी

अमेरिका और चीन के बीच जारी तनातनी खत्म होने का नाम नहीं ले रही। दोनों के बीच लगातार बयानबाजी की जा रही है। इसी बीच अब अमेरिका ने चीन को बलपूर्वक ताइवान पर फिर से कब्जा करने के किसी भी प्रयास को लेकर सख्त चेतावनी दी है। दरअसल अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) रॉबर्ट ओब्रायन (Robert O’Brien) ने चीन को चेतावनी दी है और कहा है कि चीन बड़े पैमाने पर नौसेनिक निर्माण में लगा हुआ है। हालांकि, रॉबर्ट ओब्रयान ने ये नहीं बताया कि अमेरिका चीन के इस कदम पर कैसी प्रतिक्रिया देगा।

रॉबर्ट ओब्रायन ने एक घटना का जिक्र करते हुए बताया कि चीन बड़े पैमाने पर नौसैनिक निर्माण कर रहा है। ऐसा सबसे पहले प्रथम विश्व युद्ध से पहले ब्रिटेन और जर्मनी के दौरान देखा गया था। इसके बाद नौसेना निर्माण कभी नहीं देखा गया। रॉबर्ट ओब्रायन ने अपने बयान में चीन और ताइवान के बीच 160 किमी (100 मील) की दूरी और द्वीप पर कुछ लैंडिंग की ओर भी इशारा किया। उन्होंने कहा, ‘इसके साथ समस्या यह है कि जलस्थलचर लैंडिंग (Amphibious Landings) बेहद कठिन हैं। यह एक आसान कान नहीं है और ताइवान पर चीन द्वारा किए गए हमले के जवाब में अमेरिका क्या करेगा। ये भी अभी साफ नहीं है।’

वहीं, अपने बयान में ओब्रायन ने ताइवान को सलाह दी कि वह अपनी रक्षा के लिए ज्यादा से ज्यादा खर्चा करें साथ ही उन्होंने चीन को आक्रामण का सामना करने के लिए सैन्य सुधार करे। उन्होंने कहा, ‘आप अपने रक्षा पर जीडीपी का केवल 1 प्रतिशत खर्च नहीं कर सकते, जैसा ताइवान 1.2 प्रतिशत कर रहा है और 70 वर्षों में सबसे बड़े सैन्य निर्माण में लगे चीन को रोकने की उम्मीद है।’ बता दें कि रॉबर्ट ओब्रायन का बयान ऐसे समय आया है जब चीन लगातार ताइवान के पास अपनी सैन्य गतिविधियों को बढ़ा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *