Breaking News

ड्रग्स केस में घिरी NCB, क्षितिज प्रसाद का संगीन आरोप, बताया- अफसरों ने कहा करण को फंसा दो, हम तुम्हें..

बॉलीवुड इंडस्ट्री में खुला ड्रग्स मामला अब लगातार एक विवाद बनता जा रहा है. इस केस में अभी भी पूछताछ और गिरफ्तारियों का सिलसिला जारी है. एक तरफ जहां दीपिका पादुकोण और श्रद्धा कपूर जैसे बड़ी एक्ट्रेस से इस मसले में पूछताछ हो रही है तो वहीं दूसरी तरफ नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) की ओर से फिल्म प्रोड्यूसर क्षितिज रवि प्रसाद (Kshitij Ravi Prasad) को गिरफ्तार किया गया है. जिनकी चर्चा इन दिनों तेज से हो रही है. खबर है कि क्षितिज एनसीबी की पूछताछ में कॉपरेट नहीं कर रहे हैं और अब तो उन्होंने देश की सबसे बड़ी एजेंसी पर संगीन आरोप भी लगा दिया है.

दरअसल इस मामले को लेकर क्षितिज के वकील सतीश मानशिंदे (Satish Maneshinde) ने बॉम्बे हाईकोर्ट में ये बयान दिया है कि, एनसीबी की टीम ने प्रोड्यूसर को ब्लैकमेल और परेशान करके उनसे जबरदस्ती फर्जी बयानों पर साइन करवाए हैं. इतना ही नहीं वकील ने तो ये भी आरोप लगाया है कि, क्षितिज प्रसाद से पूछताछ के समय करण जौहर और उनके टॉप के एक्ज़ीक्यूटिव्स को फंसाने को लेकर उनसे काफी जबरदस्ती की गई. हैरानी वाली बात तो ये है कि मानशिंदे ने हाईकोर्ट से ये भी कहा है कि, एजेंसी ने क्षितिज से कहा है कि यदि वो करण जौहर, सोमेल मिश्रा, राखी, अपूर्वा, नीरज या फिर राहिल का नाम ले लेते हैं तो उन्हें अधिकारियों की गिरफ्त से छोड़ दिया जाएगा.

गौरतलब है कि ड्रग्स मामले में धर्मा प्रोडक्शन के पूर्व डायरेक्टर क्षितिज रवि प्रसाद को एनसीबी की तरफ से शनिवार को ही गिरफ्तार किया गया था. दरअसल एनसीबी के सूत्रों के हवाले से ये जानकारी मिली थी कि छापे के समय क्षितिज के घर से गांजा बरामद हुआ था. लेकिन उनके वकील का कहना है कि जांच एजेंसी क्षितिज पर गलत तरीके से प्रेशर डाल रही है. ताकि वो ये बात जबरन कबूल करें कि वो, करण जौहर और उनकी टीम ड्रग्स लेती है. फिलहाल क्षितिज के वकील ने बताया कि काफी दबाव के बाद भी क्षितिज ने ऐसा कुछ कबूल नहीं किया है. क्योंकि वो इनमें से किसी को भी करीब से नहीं जानते हैं और न ही किसी को गलत आरोप में फंसाना चाहते हैं.

आगे सतीश मानशिंदे ने अपनी दलील में ये भी कहा कि एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े पर भी क्षितिज ने कई आरोप लगाए हैं. क्योंकि समीर वानखेड़े ने क्षितिज को इस बात के लिए धमकाया था कि यदि वो अपने इस बयान पर साइन नहीं करते हैं तो उन्हें न परिवार से मुलाकात करने दिया जाएगा और न ही वकील से मिल सकेंगे. यहां तक कि वकील सतीश मानशिंदे ने क्षितिज की ओर से समीर वानखेड़े पर ये भी आरोप मढ़े हैं कि उन्होंने क्षितिज को अपनी कुर्सी के पास से जमीन पर बैठने के लिए कहा और फिर अपने जूतों को उनके चेहरे पर दिखाकर कहा कि यही उनकी औकात है. जिसके बाद वहां पर मौजूद पूरी टीम उन पर हंसने लगी थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *