Breaking News

डाबर ने समलैंगिक कपल वाले करवा चौथ के विज्ञापन के लिए मांगी माफी, जानिए पूरा मामला

कुछ दिनों पहले डाबर इंडिया का एक विज्ञापन सामने आया था, जिसमें उन्होंने समलैंगिक कपल को करवा चौथ मनाते दिखाया था, इस एड पर खूब विवाद हुआ जिसके बाद अब डाबर ने ‘बिना शर्त’ माफी जारी करते हुए कहा, ‘फेम का करवाचौथ अभियान सभी सोशल मीडिया हैंडल से वापस ले लिया गया है और हम अनजाने में लोगों की भावनाओं को आहत करने के लिए बिना शर्त माफी मांगते हैं’

डाबर इंडिया ने माफी जारी करते हुए कहा, “महिलाओं का करवाचौथ अभियान सभी सोशल मीडिया हैंडल से वापस ले लिया गया है और हम अनजाने में लोगों की भावनाओं को आहत करने के लिए बिना शर्त माफी मांगते हैं।”

वायरल विज्ञापन में दो युवतियां खुशी-खुशी अपने पहले करवा चौथ उत्सव की तैयारी कर रही हैं, जबकि एक दूसरे के चेहरे पर ब्लीच लगा रही हैं। दोनों लड़कियां इस त्योहार के महत्व और इसे मनाने के कारणों पर चर्चा कर रही होती हैं और तभी एक महिला आती है और दोनों को रात में पहनने के लिए साड़ी देती है। रात को दोनों चांद की पूजा करती हैं और उसके बाद एक दूसरे को छलनी से देखती हैं। जिससे पता चलता है कि दोनों समलैंगिक हैं और एक दूसरे से दोनों ने शादी की है। इस विज्ञापन के सामने आते ही विवाद होने लगा। जहां एक तरफ लोगों ने इस विज्ञापन को इसलिए कोसा क्योंकि ये फेयरनेस का प्रचार कर रहा है वहीं दूसरी तरफ लोगों ने ये कहा कि समलैंगिक लोग इस तरह से बिहैव नहीं करते हैं। दोनों ही महिलाएं जैसी नहीं हो सकती है। उस जोड़े में एक मेल की तरह बिहैव करेगी तो दूसरी फीमेल की तरह।

फिल्ममेकर रीमा कागती और हंसल मेहता ने भी इस मुद्दे पर अपनी राय रखते हुए ट्वीट किया है।

इससे पहले रविवार रात को, डाबर ने एक अलग बयान में सोशल मीडिया पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा था, “डाबर और फेम एक ब्रैंड के रूप में विविधता, समावेश और समानता के लिए प्रयास करते हैं, और हम अपने संगठन और अपने समुदायों के भीतर इन मूल्यों का गर्व से समर्थन करते हैं। हमारे अभियान भी यही दर्शाते हैं। हम समझते हैं कि हर कोई हमारे रुख से सहमत नहीं होगा, और हम एक अलग दृष्टिकोण रखने के उनके अधिकार का सम्मान करते हैं। हमारा इरादा किसी भी विश्वास, रीति-रिवाजों और परंपराओं, धार्मिकता आदि को ठेस पहुँचाना नहीं है। अगर हमने किसी व्यक्ति या समूह की भावनाओं को ठेस पहुंचाई है, तो यह अनजाने में हुआ था, और हम माफी मांगते हैं।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *