Breaking News

जम्मू में एक ही घर में मिले 6 लोगों के शव, जांच में जुटी पुलिस

जम्मू, तवी विहार सिद्धड़ा में आज सुबह सनसनीखेज मामला सामने आया है। एक मुहल्ले में दो अलग-अलग घरों से दो परिवारों के छह लोगों के शवों के मिलने से इलाके में दहशत पैदा हो गई है। पुलिस विभाग ने इस संबंध में कुछ भी स्पष्ट तौर पर नहीं कहा है। सभी शवों को जम्मू राजकीय मेडिकल कालेज अस्पताल के शवगृह में रखा गया है। पुलिस का कहना है कि पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आने पर ही वह इस संबंध में बयानबाजी कर पाएंगे। मामले की सच्चाई सामने लाने के लिए एसपी रूरल संजय शर्मा के नेतृत्व में जांच टीम गठित की गई है। इस टीम में एसडीपीओ नगरोटा प्रदीप कुमार, एसएचओ नगरोटा इंस्पेक्टर विश्व प्रताप और एसआई माजिद हुसैन आईसी पीपी सिद्धड़ा को शामिल किया गया है।

पुलिस ने बताया कि उन्हें श्रीनगर से एक महिला ने फोन किया था, जिन्होंने अपना नाम शहजादा पुत्री हबीबुल्लाह भट निवासी 900 भट हाउस, बरजुल्ला श्रीनगर बताया। उन्होंने बताया कि वह अपने भाई नूर उल हबीब को काफी दिनों से टेलीफोन कर रही हैं, परंतु वह नहीं उठा रहे हैं। उन्होंने यह आशंका जताई कि कहीं उन्हें कुछ हो तो नहीं किया गया है। उन्होंने बताया कि उनका भाई सिद्धड़ा तवी विहार में रहता है।

सूचना मिलते ही पुलिस स्टेशन नगरोटा और पुलिस चौकी सिद्धड़ा का दल एसएचओ नगरोटा इंस्पेक्टर विश्व प्रताप और एसआई सिद्धड़ा माजिद हुसैन के साथ मौके पर पहुंचे। उन्होंने पाया कि घर के दरवाजे अंदर से बंद थे। करीब से देखने पर उन्हें घर से बदबू आने लगी। पुलिस ने तवी विहार कॉलोनी सिद्धड़ा के स्थानीय लोगों की मौजूदगी में घर के दरवाजे जबरन तोड़ दिए। पुलिस यह देखकर स्तब्ध रह गई कि उक्त घर में चार शव पड़े हैं। इस पर एफएसएल की एक टीम और पीसीआर के क्राइम सेक्शन के फोटोग्राफर्स को वहां बुला लिया गया। घटलास्थल से सबूत व अन्य सैंपल उठाने के बाद शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया।

पुलिस ने प्राथमिक जांच में पाया कि यह जहर देने का मामला हो सकता है। परंतु यह जांच का विषय है कि यह जहर जबरन दिया गया है या नहीं। मौके पर मिले चार शवों में पहला शव नूर उल हबीब पुत्र हबीबुल्लाह, सकीना बेगम पत्नी स्वर्गीय गुलाम हसन उसकी बेटी नस्सेमा अख्तर पुत्री स्वर्गीय गुलाम हसन व सज्जाद अहमद पुत्र फारूक अहमद मगरे की है। पुलिस ने आसपास के पड़ोसियों से बात की तो पता चला कि सकीना बेगम का घर दूसरा है। जांच के लिए जब पुलिस की टीम वहां पहुंची तो वहां भी उन्हें दो शव पड़े हुए मिले।

ये शव सकीना बेगम के बेटे जफर सलीम और बेटी रुबीना बानो के थे। अलग-अलग घरों से मिले इन छह शवों ने पुलिस को असमंजस में डाल दिया है। पुलिस अभी कुछ भी कह पाने में अपनी असमर्थता जता रही है। वहीं मौके पर पहुंचे एसएसपी जम्मू चंदन कोहली ने कहा कि अभी कुछ भी कहना जल्दबाजी होगा। पोस्टमार्टम की रिपोर्ट व जांच से सामने आने वाले तथ्यों के आधार पर ही यह स्पष्ट हो पाएगा कि यह आत्महत्या है या फिर हत्या।

सभी छह शवों को पोस्टमार्टम के लिए जीएमसी जम्मू भेज दिया गया है। कानूनी औपचारिकताओं के बाद उन्हें परिजनों को सौंप दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *