Breaking News

गैंगेस्टर की प्रेमिका गर्ल्स हाॅस्टल से चलाती है अपराध का साम्राज्य, कारोबारियों और बिल्डरों से वसूलती है रंगदारी

रांची। राजधानी रांची सहित कई जिलों कि पुलिस के लिए सिरदर्द बन चुका कुख्यात गैंगस्टर सुजीत सिन्हा अब अपनी प्रेमिका को लेकर चर्चा में है। प्रेमिका प्रियंका कुमारी सिंह अब साम्राज्य संभाल रही है। प्रियंका कुमारी सिंह को खुशबू उर्फ सृष्टि के नाम से जाना जाता है। प्रियंका कुमारी गैंगस्टर सुजीत सिन्हा के गिरोह की सेकंड इन कमांड थी। प्रियंका रांची में बड़े कारोबारियों और बिल्डरों से रंगदारी वसूलती रही है। इस गैंग का पर्दाफाश तब हुआ जब बड़े कारोबारी और राजनीति से जुड़े व्यक्ति रंगदारी मांगने और हत्या की धमकी के बाद सुजीत सिन्हा की प्रेमिका सहित पूरा गैंग पुलिस की रडार पर आ गया। राज्य पुलिस ने एक-एक कर सभी गैंग मेंबर को अपनी गिरफ्त में ले लिया। प्रेमिका प्रियंका रांची के कडरू स्थित एक गर्ल्स हॉस्टल में रहकर पूरा गैंग चला रही थी। वह हॉस्टल में एक स्टूडेंट बनकर रह रही थी। प्रियंका डाल्टेनगंज के एक कॉलेज से बीबीए की पढ़ाई भी की है। प्रियंका की दोस्ती महेश सुजीत सिन्हा से हुई थी। उसके बाद सुजीत सिन्हा के लिए वह काम करने लगी। उसने अपने गैंग में दो सगे भाइयों अंकित और विकास को भी जोड़ रखा था। प्रियंका ने रांची में अपने अलग-अलग गुर्गों के माध्यम से जमीन कारोबारियों की सूची बना रखी थी। कारोबारी और बिल्डर उसके निशाने पर थे। यह दबंग लड़की हर प्रोजेक्ट में एक फ्लैट की मांग करती थी। प्रियंका धमकी में कहा करती थी कि वह पूरे फ्लैट की कीमत दो वरना गोली मार दी जाएगी। कई बिल्डर सुजीत सिन्हा के नाम पर मांगे गए रंगदारी के डर से पैसे भी दे चुके थे। प्रियंका सहित चार लोग पकड़े गए। उनके पास से मोबाइल गहने समेत अन्य सामान भी बरामद हुए हैं।

रांची के एसएसपी सुरेंद्र झा ने बताया कि सुजीत सिन्हा की प्रेमिका प्रियंका ने पलामू में कुख्यात डब्ल्यू सिंह गिरोह के लव सिंह की हत्या में हनी ट्रैप के रूप में शामिल थी। इस मामले में वह जेल भी जा चुकी है। इस कांड में पकड़े गए रिंटू सिंह का भी आपराधिक इतिहास है। रंगदारी और हत्या के मामले में भी वह पूर्व में जेल जा चुका है। पुलिस टीम ने सभी चारों अपराधियों को योजनाबद्ध तरीके से गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तारी रातू थाने में 10 अप्रैल को दर्ज मामले में की गई है। सुरेंद्र झा ने बताया कि जेल में बंद सुजीत सिन्हा से प्रियंका लगातार संपर्क में रहती थी वह सिन्हा की गैर हाजिरी में गिरोह को संचालित करती थी। काम के एवज में उसे मोटी रकम भी हर महीने मिलती थी।

पुलिस की डायरी के अनुसार राज्य में 36 अपराधिक गैंग चल रहे हैं। सबसे ज्यादा सक्रिय सुजीत सिन्हा गैंग ही है। रांची पुलिस ने सुजीत सिन्हा ज्ञान के चार लोगों को गिरफ्तार किया जिसमें प्रियंका सिंह, रिंकू सिंह उर्फ जयप्रकाश सिंह, अंकित प्रताप सिंह उर्फ गोलू और विकास सिंह उर्फ छोटू को गिरफ्तार करने में सफलता पाई है। सुजीत सिन्हा गैंग के अपराधियों के पुलिस की गिरफ्त में आने के बाद रांची के एसएसपी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि संबंधित जमीन कारोबारियों की हत्या की योजना भी बना चुका था।

एसएसपी सुरेंद्र झा ने बताया कि सुजीत सिन्हा का गिरोह रांची और आसपास के क्षेत्रों में प्रियंका ही ऑपरेट कर रही थी किस से रंगदारी मांगनी है और किसे धमकी देनी है. गैंग में किसको कहां रखना और किसको हटाना है, यह सब कुछ उसी के जिम्मे था. वो ही सुजीत सिन्हा से लगातार सम्पर्क में थी। सुरेंद्र झा ने बताया कि घाघीडीह जेल के कुछ कर्मी प्रियंका को जेल के अंदर से सुजीत सिन्हा से जुड़ी जानकारियां उपलब्ध कराते थे इसका पता पुलिस लगा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *