Breaking News

कैबिनेट के बड़े फैसले: जम्मू-कश्मीर में हाइड्रो प्रोजेक्ट को मिली मंजूरी, किसानों के लिए किया बड़ा ऐलान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में कई अहम फैसले लिए गए। कैबिनेट ने जम्मू कश्मीर में हाइड्रो प्रोजेक्ट बनाने के प्रस्ताव पर अपनी मुहर लगा दी है। एक नज़र मोदी सरकार द्वारा लिए गए इन फैसलों पर…

– खरीफ फसल के लिए DAP में सब्सिडी को मंजूरी दी गई है। अनुराग ठाकुर ने बताया कि किसानों के लिए खाद की कमी नहीं होने दी जाएगी। उन्होंने बताया कि मोदी सरकार ने किसानों के लिए DAP और खरीफ पर 60949 करोड़ रुपए की सब्सिडी दी जाएगी।

चिनाब नदी पर बनेगा कवार हाइड्रो प्रोजेक्ट
जानकारी देते हुए केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने बताया कि जम्मू-कश्मीर में 540 मेगावॉट का कवार हाइड्रो प्रोजेक्ट चिनाब नदी पर बनेगा। केंद्रीय मंत्री ने बताया कि इस प्रोजेक्ट पर 23,000 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे। इस प्रोजेक्ट के बनने से स्थानीय लोगों को रोजगार मुहैया होगा।

– केंद्रीय मंत्री ने बताया कि कैबिनेट की बैठक में इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक को 820 करोड़ रुपये का वित्तीय समर्थन देने का फैसला किया है।

– अनुराग ठाकुर ने बताया कि पीएम स्ट्रीट वेंडर आत्मनिर्भर निधि (पीएम स्वनिधि) को अब दिसंबर 2024 तक बढ़ाया जाएगा। बता दें कि सरकार इसके तहत स्ट्रीट वेंडर्स को सात फीसदी की सब्सिडी पर लोन मुहैया कराती है। उन्होंने कहा कि वेंडिंग जोन्स को 5800 से बढ़ाकर 10,500 कर दिया गया है। हमारा लक्ष्य है कि 2024 तक 40 लाख वेंडर को लाभ पहुंचाया जाए। स्वनिधि से समृद्धि योजना के अंतर्गत अब तक विभिन्न योजनाओं से 16.7 लाख लाभार्थियों को फायदा मिला है।

– दस राज्यों में 2542 टावरों को 2जी से 4जी में अपग्रेड किया जाएगा। ये टावर देश के दस राज्यों में है। केंद्रीय मंत्री ने बताया कि ये सभी टावर नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में हैं, इनमें आत्मनिर्भर भारत में बने 4जी कोर नेटवर्क, रेडियो नेटवर्क एवं टेलीकॉम नेटवर्क का इस्तेमाल किया जाएगा। इन सभी को बीएसएनएल ही अपग्रेड करके संचालित करेगा। इसके अलावा सरकार की ओर से बताया गया कि इनके लिए 2426 करोड़ रुपये का आवंटन किया गया है। इसके अलावा सरकार ने पी एंड के फर्टिलाइजर सब्सिडी बढ़ाने को मंजूरी दी और 60,939 करोड़ रुपये की अतिरिक्त सब्सिडी देने का फैसला भी किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *