Breaking News

काबुल एयरपोर्ट पर मां-बाप से बिछड़ गया था दो माह का मासूम, अब पहुंचा परिजनों के पास

पिछले साल अगस्त में अफगानिस्तान (Afghanistan) में तालिबान के काबिज होते ही राजधानी काबुल के एयरपोर्ट पर अफरा-तफरी मची थी, लोग किसी भी हाल में देश छोड़ने को बेचैन थे। इसी जद्दोजहद में मात्र दो महीने के मासूम बच्चे को कांटेदार तार की बाड़ पर से अमेरिकी सैनिकों के हाथ में सौंपने वाली एक तस्वीर भी सामने आई थी लेकिन वह अपने परिवार के पास नहीं पहुंचा था और बिछड़ गया था। लेकिन अब शनिवार को वही मासूम सोहेल अहमदी (Sohail Ahmadi) अपने काबुल में अपने रिश्तेदारों के पास पहुंच गया।

बच्चे के गुम होने से अफगान शरणार्थी परिवार बेहद दुखी थे। 19 अगस्त को खोया सोहेल काबुल में 29 वर्षीय टैक्सी ड्राइवर हामिद सफी (Hamid Safi) के पास मिला। दरअसल हामिद को बच्चा एयरपोर्ट पर मिला था और वे अपने घर ले आए। काफी प्रयासों व तालिबान पुलिस की मदद से बच्चे को काबुल में रह रहे उसके रिश्तेदारों ने हासिल किया है। बता दें कि बच्चे के माता-पिता अगस्त में अमेरिका चले गए थे।

दरअसल सोहेल के पिता मिर्जा अली अहमद अमेरिकी दूतावास में सिक्योरिटी गार्ड थे। मिर्जा अली अहमदी, उनकी पत्नी सुरैया और उनके पांच बच्चे तालिबान के कब्जे के बाद किसी तरह हामिद करजई इंटरनेशनल एयरपोर्ट के गेट तक पहुंचे थे। इस दौरान सुरैया को लगा कि उनका बच्चा यहीं फंस सकता है, क्योंकि एयरपोर्ट पर अफरा-तफरी मची हुई थी। उन्होंने दो महीने के सोहेल को बाड़ के ऊपर से अमेरिकी सैनिकों को सौंप दिया। इसकी तस्वीरें भी वायरल हुई थीं। परिवार को एयरपोर्ट के भीतर तक पहुंचने में आधे घंटे तक का वक्त लग गया और तब तक बच्चा गुम हो गया लेकिन अब काबुल में मौजूद सोहेल के रिश्तेदार उसे उसके माता-पिता तक अमेरिका पहुंचाने के प्रयासों में जुट गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *