Breaking News

कानपुर हिंसा मामले में बड़ी सफलता, मास्टरमाइंड हयात जफर चढ़ा पुलिस के हत्थे

उत्तर प्रदेश में कानपुर के बेकनगंज क्षेत्र में शुक्रवार को दो पक्षों के बीच हुई पत्थरबाजी के मामले में पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। हिंसा के मुख्य आरोपी जफर हयात हाशमी को एसटीएफ ने लखनऊ से गिरफ्तार किया है। हाशमी और अन्य नेताओं ने ही बीजेपी नेत्री नूपुर शर्मा के पैंगबर मोहम्मद को लेकर दिए बयान के खिलाफ जुलूस निकाला था। इस बीच दो समुदाय के लोग भिड़े और यह पूरा वाकया सामने आया। इस घटना में आधा दर्जन से अधिक लोग गंभीर रूप से घायल हैं। वहीं इस हिंसा में कई बाईक, कार और स्कूटी को भी नुकसान पहुंचाया गया।

Probe into Anti-CAA Violence in Kanpur Suggests Involvement of Outsiders:  Police

रिपोर्टस की मानें तो मास्टरमाइंट हयात जफर हाशमी बीते कुछ सालों में कई सम्पत्ति अर्जित कर चुका है। वह घर में राशन कंट्रोल चलाता है। इससे पहले हाशमी ने मकान खाली करवाने के लिए अपनी बहन और मां को उकसा कर कानपुर डीएम कार्यालय में आग लगवाई थी। इलाज के दौरान दोनों की मौत हो गई थी। हयात जफर हाशमी सोशल मीडिया पर काफी ज्यादा सक्रिय है और वह पहले भी कई बार लोगों को उकसा कर उपद्रव करवा चुका है। वह सीएए और एनआरसी प्रदर्शन के दौरान भी काफी सक्रिय रहा था।

Kanpur violence: 36 arrested, 3 FIRs filed, property to be bulldozed, say  cops | Latest News India - Hindustan Times

अपर पुलिस महानिदेशक कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार ने कहा कि जिले में हिंसा फैलाने वाले 18 लोगों को चिन्हित कर गिरफ्तार कर लिया गया है। पर्याप्त मात्रा में वीडियो फुटेज पुलिस काे प्राप्त हुये हैं जिसके आधार पर शरारती तत्वों को गिरफ्तार किया गया है जबकि कुछ अन्य की तलाश की जा रही है। घटना में शामिल लोगों के खिलाफ गैंगेस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी।

Kanpur Violence: अब तक 18 उपद्रवी गिरफ्तार, UP पुलिस गैंगस्टर एक्ट के तहत  करेगी कार्रवाई, कुर्क होगी संपत्ति | TV9 Bharatvarsh

उन्होने बताया कि बेकनगंज थाना क्षेत्र के नई सड़क इलाके में जुमे की नामाज के बाद कुछ लोगों ने दुकानों को बंद कराने का प्रयास किया और विरोध करने पर पथराव कर दिया। जवाब में दूसरे पक्ष के लोगों ने भी पथराव किया। सूचना पर पुलिस ने आवाश्यक बल प्रयोग कर हालात को काबू में कर लिया। कुमार ने बताया कि कानपुर की घटना को शासन ने गंभीरता से लिया है और शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिये अतिरिक्त पुलिस बल भेजा गया है। उन्होंने लोगों से शांति व्यवस्था बनाए रखने में और उपद्रवियों को पहचानने में प्रशासन की मदद करने की अपील की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *