Breaking News

कानपुर में बस व टैंपो में भिड़ंत में 17 की मौत, PM मोदी व CM योगी ने जताया शोक

कानपुर में मंगलवार की रात बेहद अमंगलकारी साबित हो गई। यहां पर सचेंडी में किसान नहर के पास बड़े सड़क हादसे में 17 लोगों की मौत हो गई है। यह संख्या बढ़ भी सकती है।

कानपुर नगर के सचेंडी थाने के पास कानपुर-इटावा हाईवे पर गदनखेड़ा गांव के सामने बेकाबू बस गलत दिशा से आ रही टेंपो को रौंदती हुई पास ही गड्ढे में पलट गई। इन दोनों ही गाडिय़ों में क्षमता से अधिक सवारियां भरी थीं।

मंगलवार रात करीब सवा आठ बजे हुए हादसे में 17 लोगों की मौत हो गई, जबकि लगभग 18 लोग घायल हो गए। इनमें से चार की हालत गंभीर है। सभी मृतक लाल्हेपुर व ईश्वरीगंज के रहने वाले थे। इस हादसे के बाद बस के चालक और कंडक्टर दोनों भाग निकले। देर रात कई वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंच गए।

इस दुर्घटना की सूचना पर आईजी मोहित अग्रवाल, एसपी आउटर अष्टभुजा प्रसाद सहित उच्चाधिकारी मौके पर हैं। घायलों को एलएलआर (हैलट) अस्पताल भेजा गया है। यहां के लाला लाजपत अस्पताल में 21 लोगों को लाया गया है। इन सभी में 17 की मौत हो गई है, जबकि चार की हालत बेहद गंभीर हैं।कानपुर के कल्पना ट्रैवल्स की 42 सीटर बस करीब 120 सवारियां लेकर गुजरात के अहमदाबाद के लिए शाम साढ़े पांच बजे फजलगंज से चली थी। बाराबंकी निवासी राजकुमार, विनोद, सर्वेश और गोंडा के शीलू ने बताया कि बस चालक ने विजय नगर में एक पेट्रोल पंप पर डीजल भराते वक्त ही शराब पी ली थी। उन लोगों ने इसका विरोध किया और ट्रैवल्स कंपनी के नंबर पर फोन पर इसकी जानकारी दी। इस पर बात करने वाले ने परेशान न होने की बात कहकर टाल दिया।

इस प्रकरण के कुछ ही किलोमीटर चलने के बाद इटावा की ओर सचेंडी थाने से करीब डेढ़ किलोमीटर आगे गदनखेड़ा गांव के पास अचानक बेकाबू हुई बस ने सामने से आ रहे सवारियों से भरे टेंपो में जोरदार टक्कर मारी दी। इससे टेंपो फुटपाथ की ओर जाकर पलट गया और उसके परखचे उड़ गए। टेंपो को टक्कर मारने के बाद अनियंत्रित हुई बस भी हाईवे किनारे खंती में पलट गई। टेंपो में 20-22 लोग सवार थे। हादसे के बाद राहगीरों की भीड़ जुटी और कंट्रोल रूम को सूचना दी गई। आनन-फानन में पुलिस घटनास्थल पहुंची और ग्रामीणों की मदद से बस और टेंपो में फंसे लोगों को बाहर निकालने का काम शुरू किया। आइजी मोहित अग्रवाल, एसपी आउटर अष्टभुजा प्रसाद समेत कई आला अफसर घटनास्थल पहुंचे और हालात का जायजा लिया। इसके बाद आनन-फानन गंभीर घायलों को लोडर से एलएलआर अस्पताल (हैलट) पहुंचाया गया। जहां सभी को डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। मृतकों में ज्यादातर टेंपो सवार थे। यह लोग गांव से किसाननगर स्थित बिस्किट फैक्ट्री में काम करने जा रहे थे। हादसे के बाद हाईवे की एक लेन पर यातायात पूरी तरह से बाधित हो गया।

टेंपो सवा अधिकांश मृतक

आइजी कानपुर जोन, मोहित अग्रवाल ने बताया कि इस हादसे ज्यादातर टेंपो सवार लोगों की मौत हुई है। उसमें करीब 21 सवारियां बैठी थीं। सभी बिस्किट कंपनी के कर्मचारी थे और नाइट शिफ्ट में काम करने जा रहे थे। टेंपो सवारों के ईश्वरीगंज और लाल्हेपुर गांव के निवासी होने की जानकारी हुई है।

बस तथा टेंपों में क्षमता से अधिक सवारियां

ट्रैवल्स एजेंसी की 42 सीटर बस में लगभग 120 यात्री बैठाए गए थे। वहीं विपरीत दिशा से आ रही टेंपो में भी क्षमता से तीन गुना सवारियां थीं। टेंपो गलत दिशा से आ रहा था। शराब के नशे में चालक बस को अनियंत्रित रफ्तार में भगा रहा था।

पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम योगी आदित्यनाथ ने दु:ख जताया

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की ओर से हादसे पर दुख जताते हुए घायलों के उचित इलाज का निर्देश दिया गया है। उन्होंने जिला प्रशासन से दुर्घटना की जांचकर शीघ्र आख्या मांगी है। उनकी ओर से मृतकों के स्वजन को दो-दो लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा भी की गई है। वहीं प्रधानमंत्री कार्यालय के अनुसार प्रधानमंत्री राहत कोष से मृतक आश्रितों को दो-दो लाख और घायलों को 50-50 हजार रुपये की आर्थिक मदद दी जाएगी।

पीएम मोदी ने की मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख रुपये और घायलों को 50,000 रुपये देने की घोषणा

पीएम नरेंद्र मोदी ने कानपुर में एक दुखद दुर्घटना के कारण अपनी जान गंवाने वालों के परिजनों के लिए PMNRF (प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष) से ​​प्रत्येक को 2-2 लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की है। घायलों को 50,000 रुपये प्रदान किए जाएंगे।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने जताया दुख, मृतकों के आश्रितों को दो-दो लाख रुपया की सहायता

सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस हादसे पर दुख जताने के साथ ही कानपुर के जिला तथा पुलिस प्रशासन को मौके पर तत्काल सभी को राहत देने के साथ ही घायलों को समुचित उपचार देने का निर्देश दिया है। इसके साथ ही उन्होंने मृतकों के परिवार के लोगों के प्रति संवेदना व्यक्त करने के साथ ही इनके आश्रितों को दो-दो लाख रुपया की सहायता देने की घोषण की है। उनके निर्देश पर कानपुर नगर के सभी वरिष्ठ अफसर मौके पर हैं। मुख्यमंत्री ने इनको युद्ध्स्तर पर राहत कार्य करने के साथ सभी घायलों के उपचार की तत्काल व्यवस्था करने को कहा है। इसके साथ ही जिला प्रशासन से इस घटना की जांच आख्या तलब की है।

बस चालक और कंडक्टर ने शराब पी

कानपुर के कल्पना ट्रैवल्स की बस सूरत और अहमदाबाद की करीब सौ सवारियां लेकर शहर से चली थी। बस सवार राजकुमार, विनोद, सर्वेश, शीलू ने बताया कि बस चालक ने पनकी के पास गाड़ी में डीजल भराया था, आरोप है कि इस दौरान दोनों ने शराब भी पी। इस पर उन लोगों ने विरोध करते हुए ट्रैवल्स कंपनी के कार्यालय से फोन पर चालक और कंडक्टर के शराब पीने की जानकारी दी। इस पर बात करने वाले ने परेशान न होने की बात कहकर टाल दिया। कुछ ही किमी चलने के बाद अचानक बेकाबू हुई बस ने सवारियों से भरे टेंपो में जबरदस्त टक्कर मार दी। जिससे टेंपो फुटपाथ की ओर जाकर पलट गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *