Breaking News

ओमिक्रॉन संकट के बीच फ्लोरोना ने बढ़ाई टेंशन, करता है डबल अटैक, हो सकती है मौत! जानें कितना है खतरनाक

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच एक और चिंता बढ़ाने वाली खबर आई है. इंसान पर कोरोना और फ्लू के वायरस का एक साथ अटैक करने का मामला सामने आया है. कोरोना और इनफ्लूएंजा के डबल इंफेक्शन को फ्लोरोना कहा जाता है. माना जा रहा है कि इस नए इंफेक्शन में एक ही मरीज में, कोरोना और इनफ्लूएंजा, दोनों के वायरस पाए जाते हैं.

रिपोर्ट्स के मुताबिक कोरोना और इनफ्लूएंजा के डबल अटैक का पहला मामला यानी फ्लोरोना का पहला केस इजरायल में सामने आया है. अरब न्यूज के मुताबिक फ्लोरोना का पहला मामला एक गर्भवती महिला में मिला है, जो राविन मेडिकल सेंटर में अपने बच्चे को जन्म देने के लिए भर्ती हुई है.

फ्लोरोना ने बढ़ाई इजरायल की चिंता

फ्लोरोना वायरस मिलने के बाद से इजरायल के स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों की चिंता बढ़ गई है. बताया गया है कि महिला ने वैक्सीन नहीं लगवाई थी. डॉक्टरों का कहना है कि महिला की हालत स्थिर है. फ्लोरोना यानी एक ही इंसान में फ्लू और कोरोना यानी डबल इंफेक्शन को कहते हैं. दोनों ही हवा के जरिए इंसान से इंसान में फैलने वाला संक्रमण है.

फ्लोरोना के अंदर मौजूद फ्लू और कोरोना, दोनों ही रेस्पिरेटरी इंफेक्शन हैं. इसका मतलब है फ्लोरोना बोलने, सांस लेने, खांसने या फिर छींकने आदि के दौरान निकलने वाले संक्रमित एरोसोल पार्टिकल्स के संपर्क में आने से फैलता है. इसलिए अगर आप फ्लू से संक्रमित और कोरोना से संक्रमित, दोनों प्रकार के मरीजों के संपर्क में आए हैं तो आपको भी फ्लोरोना होने का खतरा हो सकता है, जो कि काफी खतरनाक है.

गंभीर बीमारी का खतरा

एक्सपर्ट्स के मुताबिक कोरोना और फ्लू, दोनों के एक साथ अटैक से गंभीर बीमारियों का खतरा ज्यादा होता है. क्योंकि ये तेजी से फैल सकता है और दोनों वायरस मिलकर शरीर पर कहर बरपा सकते हैं. इसकी वजह से कई गंभीर बीमारियां भी हो सकती हैं. यही कारण है कि फ्लोरोना के इंफेक्शन को काफी खतरनाक माना जा रहा है.

फ्लोरोना होने से मरीज को निमोनिया, सांस लेने में दिक्कत, ऑर्गन फेलियर, हर्ट अटैक, दिल और दिमाग में सूजन, शॉक लगने जैसी गंभीर बीमारियां हो सकती हैं. फ्लोरोना में स्थिति ज्यादा गंभीर होने पर मरीज की मौत भी हो सकती है. यही कारण है कि इजरायल सरकार ने इसे लेकर अलर्ट जारी किया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *