Breaking News

एक अक्टूबर से नहीं चलेगी इन Bank की पुरानी Cheque Book, तुरंत करें बैंक से संपर्क

अगर आपका बैंक खाता (Bank account) इन तीन सार्वजनिक बैंकों (these three public banks) में है तो समय रहते चेक बुक (Cheque Book) बदलवा लें. ये बैंक वो है जिनकी हाल ही में दूसरे बैंकों में विलय हुआ है। बैंकों का विलय होने से अकाउंट होल्डर के अकाउंट नंबरों, आईएफएससी व एमआइसीआर कोड में बदलाव होने के कारण 1 अक्टूबर 2021 से बैंकिंग सिस्टम पुराने चेक को रिजेक्ट कर देगा। इन बैंकों की सभी चेकबुक अमान्य हो जाएगी. इसलिए इन सभी बैंकों के ग्राहकों को सलाह दी गई है कि वे तुरंत अपनी शाखा में जाएं और नए चेक बुक के लिए आवेदन करें।

इन बैंकों की चेक बुक होगी इनवैलिड
1 अक्टूबर से इलाहाबाद बैंक (Allahabad Bank), ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स (OBC) और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया (United Bank of India) की चेकबुक और MICR कोड इनवैलिड होने जा रहे हैं. ये बैंक हैं है.

जानिए किस किस बैंक का हुआ विलय
इलाहाबाद बैंक का विलय इंडियन बैंक (Indian Bank) में हो चुका है, जो 1 अप्रैल 2020 से प्रभाव में आया है. वहीं ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स (OBC) और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया (United Bank of India) का विलय पंजाब नेशनल बैंक (PNB) में हुआ था, जो 1 अप्रैल 2019 से प्रभावी हुआ है।

बैंकों ने ट्वीट कर दी जानकारी
इन तीनों बैंकों के MICR कोड और चेकबुक केवल 30 सितंबर 2021 तक ही मान्य हैं. 1 अक्टूबर 2021 से पुराने MICR कोड और चेकबुक इनवैलिड हो जाएंगे. बिना किसी रुकावट के बैंकिंग ट्रांजेक्शन जारी रखने के लिए ग्राहक 1 अक्टूबर 2021 से पहले ही नए चेक बुक ले लें।

नई चेक बुक के लिए करें ये काम
ग्राहक नए चेकबुक निकटतम ब्रांच से ले सकते हैं. या फिर चाहें तो इंटरनेट बैंकिंग (Internet Banking/Online Banking) या मोबाइल बैंकिंग (Mobile Banking) से भी अप्लाई कर सकते हैं. पीएनबी ग्राहक एटीएम, इंटरनेट बैंकिंग या पीएनबी वन से अप्लाई कर सकते हैं।

इन बैंकों के खाताधारकों को किसी भी ऑनलाइन बैंकिंग लेनदेन की सुविधा का इस्तेमाल करने के लिए विलय के बाद के बैंक नियमों के अनुसार अपने पुराने आईएफएससी कोड बदलने की जरूरत होगी. इसलिए अकाउंट होल्डर्स बताए गए बैंकों से या उनके लिए ऑनलाइन बैंक ट्रांसफर करना चाहते हैं, तो उन्हें संबंधित ऑनलाइन बैंकिंग वेब पोर्टल से पेयी की लिस्ट से बेनिफिशरी को हटाना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *