Breaking News

उत्तर प्रदेश से कोरोना को लेकर आई अच्छी खबर, COVID-19 ठीक होने वालों का प्रतिशत देश में सर्वाधिक

लखनऊ : COVID-19  वैश्विक महामारी के रूप में भयानक कहर बरपाने वाले कोरोना वायरस ने तीन मार्च से उत्तर प्रदेश को भी अपनी चपेट में लिया था। इसके बाद से इस पर अंकुश लगाने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जो प्रयास किया, वह सभी जगह पर सराहा गया। सीएम योगी आदित्यनाथ ने अफसर तथा मंत्रियों की टीम-11 का गठन करने कोरोना वायरस से निपटने के लिए कमर कसी है।

देश के सबसे अधिक जनसंख्या वाले राज्य उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण इतना भयावाह रूप नहीं ले सका। यहां पर लॉकडाउन का काफी सख्ती से पालन कराया गया और सीएम योगी आदित्यनाथ ने लगातार अपनी टीम-11 के अफसरों तथा जिलों के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की और समय-समय पर बेहतर से बेहतर योजना को क्रियान्वित भी कराया गया।

कोरोना वायरस के संक्रमण से उत्तर प्रदेश में पॉजिटिव तथा मृतकों की संख्या के अनुपात में स्वस्थ होने वाले अधिक हैं। उत्तर प्रदेश में इसके कहर से उबरने वालों के आंकड़े का प्रतिशत देश में सर्वाधिक है। प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव से निगेटिव होने वालों का प्रतिशत 37 फीसद से अधिक है। यह देश में सर्वाधिक है। इनके बीच में भी 75 जिलों वाले राज्य में चित्रकूट में मरीज पाए जाने के बाद अब कुल 62 जिलों में कोरोना पॉजिटिव मरीज हैं।

उत्तर प्रदेश कोरोना के 65 फीसद मरीज आगरा कानपुर लखनऊ सहित नौ जिलों में है। बाकी 53 जिलों में 35 फीसद मरीज है। वही स्वस्थ होने वाले मरीज 37 फीसद से अधिक हैं जो कि राष्ट्रीय स्तर से ज्यादा है। अब तक 64 लोगों ने दम तोड़ा है।  प्रदेश में बीते दो दिनों से लगातार नए मरीजों की तुलना में स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या ज्यादा है। बुधवार को भी 143 मरीज स्वस्थ हुए और अब तक कुल 1130 मरीज डिस्चार्ज होकर अस्पताल से घर जा चुके हैं। यह कुल मरीजों का 37.6 प्रतिशत है जो कि राष्ट्रीय औसत 28.7 फीसद से कहीं अधिक है।

कोरोना संक्रमितों में सर्वाधिक युवा

सूबे में अभी भी कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों में सर्वाधिक युवा हैं। कुल 2998 मरीजों में से 75.78 प्रतिशत पुरुष हैं और 24.22 फीसद महिलाएं। अब अगर उम्र के हिसाब से विश्लेषण किया जाए तो 21 वर्ष से लेकर 40 वर्ष तक की आयु वाले 48.23 प्रतिशत लोग संक्रमित हैं। वही 41 वर्ष से लेकर 60 वर्ष की आयु वाले 26.54 फीसद लोग बीमार हैं। वही सबसे कम 7.44 फीसद बुजुर्ग और नवजात शिशु से लेकर 20 वर्ष तक की आयु वाले 17.78 प्रतिशत कोरोना की गिरफ्त में हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *