Breaking News

अब खुद कोरोना वैक्सीन खरीदकर लगवाने को मजबूर हुए पाकिस्तान के लोग

पाकिस्तान (Pakistan) में कोरोनावायरस (Coronavirus) का कहर जारी है. ऐसे में इमरान खान (Imran Khan) की सरकार ने कोरोनावायरस वैक्सीन (Coronavirus Vaccine) को आम लोगों के लिए बेचने की मंजूरी दे दी है. इसके बाद से देश के युवाओं में इसे खरीदने को लेकर होड़ मच गई है. वैक्सीन बिक्री के पहले दौर की शुरुआत हो चुकी है. कराची में वैक्सीनेशन साइट्स का कहना है कि उनके यहां मौजूद सभी वैक्सीन बिक चुकी हैं. बताया गया है कि हजारों की संख्या में पाकिस्तानी नागरिकों ने वैक्सीन खरीदी है.

वर्तमान में पड़ोसी मुल्क में फ्रंटलाइन हेल्थकेयर वर्कर्स और 50 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को मुफ्त वैक्सीन लगाई जा रही है. हालांकि, पाकिस्तान का वैक्सीनेशन अभियान खासा सुस्त है. पिछले महीने सरकार ने निजी सेक्टर को आम जनता के लिए वैक्सीन आयात करने की मंजूरी दी. पहले दौर की वैक्सीन बिक्री में दो डोज वाली रूस की स्पुतनिक वी (Sputnik V) वैक्सीन की कीमत 12 हजार पाकिस्तानी रुपये (80 डॉलर) रखी गई है. आम जनता इस कीमत पर वैक्सीन की डोज खरीद सकती है.

युवाओं में वैक्सीन खरीदने को लेकर होड़

वैक्सीन की कीमत अधिक होने के बाद भी लोगों में इसे खरीदने का उत्साह देखने को मिल रहा है. कराची के कई सेंटर्स पर लोगों ने घंटों तक लंबी कतारों में लगकर वैक्सीन को खरीदा. यहां गौर करने वाली बात ये है कि इन कतारों में खड़े लोग अधिकतर युवा थे, जो सरकार के मुफ्त वैक्सीनेशन अभियान के लिए अभी तक पात्र नहीं हैं. 34 वर्षीय साद अहमद ने खरीदी हुई वैक्सीन को लगवाने के बाद कहा, मुझे वैक्सीन लगवाकर बेहद खुशी हो रही है. मैं अधिकतर समय यात्रा पर रहता हूं, इसलिए मुझे इसकी जरूरत थी.

सरकार और वैक्सीन आयातकों के बीच कीमतों को लेकर विवाद

जहां एक ओर निजी सेक्टर के लिए वैक्सीन खरीदने की शुरुआत हो चुकी है. वहीं, सरकार और आयातकों के बीच वैक्सीन की कीमत को लेकर विवाद चालू है. दरअसल, शुरुआत में इमरान सरकार ने आयात की गई वैक्सीन की कीमत को तय करने की छूट आयातकों को दी. लेकिन बाद में अपने इस निर्णय को रद्द कर दिया और कहा कि सरकार वैक्सीन की अधिकतम कीमत तय करेगी. देश की एक दवा कंपनी सरकार से इतना खफा हो गई है कि इसने इमरान सरकार को कोर्ट तक घसीट लिया है. जहां अंतरिम आदेश कंपनी के पक्ष में आया है और इसे कीमत तय नहीं होने तक बिक्री का आदेश दिया गया है.

14 हजार से ज्यादा लोगों की हुई कोरोना से मौत

इमरान सरकार की ओर से वैक्सीन की निजी बिक्री की अनुमति ऐसे समय पर दी गई है, जब देश में कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है. देश के अस्पतालों में मरीजों की संख्या दिन ब दिन बढ़ती जा रही है. अभी तक पाकिस्तान में 6,87,908 लोग वायरस की चपेट में आए हैं. कोरोना से जान गंवाने वाले लोगों की संख्या 14,778 है. पड़ोसी मुल्क में 3,568 लोग ऐसे हैं, जो संक्रमण की वजह से आईसीयू में भर्ती हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *