Breaking News

प्राचीन समय में राजाओं को आकर्षित करने के लिए रानियां करती थीं ये खास काम

ये तो हम सभी जानते हैं कि आज के समय में टैलेंट होने के साथ साथ ख़ूबसूरती कितना मायने रखता है क्‍योंकि अगर टैलेंट हो लेकिन आप अच्‍छे न दिखते हो तो आपको इस दुनिया में जल्‍दी जगह नहीं मिलती। प्राचीन समय में भी खुबसूरती का महत्‍व काफी था। जिस प्रकार से हम आजकल अपनी खुबसूरती को बरकरार रखने के लिए महंगे प्रोडक्ट्स और क्रीमें मार्किट का इस्‍तेमाल करते हैं, लड़कियां लड़कों को अपनी और आकर्षित करने के लिए हर कोशिश करती है और जितना संभव हो मेकअप एंड लुक्स अपनाती हैं। पर क्‍या आपने कभी सोचा है कि पिछले जमाने में ये महंगे प्रोडक्‍ट्स तो मिलते नहीं थें फिर कैसे रानियां अपने राजाओं को मोहित करती थीं।

उस समय में रानियां अपने पास पुराने आयुर्वेदिक तरीके रखती थीं जिसे अपनाकर वो अपनी ख़ूबसूरती बरकरार रखती थी और उस समय के राजायों को अपनी ओर सम्मोहित करती थीं। इसलिए आज हम आपको उन्‍हीं प्रोडक्‍ट के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे अपनाकर आप भी बेहद सुंदर व आकर्षक बन सकते है। प्राचीन समय के राजा और महाराजाओं को शराब एवं बीयर काफी पसंद होती थी जो कि महिलाओं के भी बहुत काम आता था जी हां आपको बता दें कि बीयर बालों के लिए बेहद फायदेमंद और असरदायक सिद्ध होती है। इतना ही नहीं बीयर आपकी स्किन के लिए भी रामबाण सिद्ध होती है।

प्राचीन समय में रानियां अपने चेहरे को सुंदरता प्रधान करने के लिए दूध के पाउडर में अंडे की सफेदी, नींबू का रस और बीयर मिलाकर इसका मिश्रण तैयार करे और इसे अपने चेहरे पर लगाती थीं जिससे उनकी स्‍कीन बेहद ही नरम मुलायम और जवां बनी रहती थी। आज भी आप गुलाब जल का प्रयोग अपने चेहरे पर करते होंगे लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि पुराने जमाने में रानियां गुलाब की पंखुड़ियां पानी में मिलाकर नहाती थी जी हां और इतना ही नहीं बल्कि वह गुलाब जल का उपयोग अपने चेहरे पर भी सुंदरता बरकरार रखने के लिए करती थी। वैसे आपको बता दें कि अगर दिन में दो बार गुलाब जल चेहरे पर लगाया जाए तो आपकी स्किन सॉफ्ट और ग्लोइंग हो जाएगी।

अखरोट खाने में जितने अच्छे होते हैं, उतना ही ये सुंदरता बढ़ाने में काम आते हैं इतना ही नहीं अखरोट को एंटी एजिंग माना जाता है इसमें कई औषधीय गुण पाए जाते हैं जिसे खाने से चेहरे पर बढ़ती उम्र के निशान और झुरिया नहीं दिखती। अगर आप रोजाना अखरोट खाएं तो कुछ ही दिनों में आपको अपनी त्वचा और चेहरे पर फर्क साफ नजर आएगा। माना जाता है कि राजा और रानी अखरोट और गाजर खाना बेहद पसंद करते थे इससे उनका शरीर स्वस्थ और शेप में बना रहता था।

आजकल की आधी से ज्‍यादा लड़कियों की सबसे बड़ी समस्या जो होती है वो है बालों का झड़ना। जी हां दिनभर कामकाज और भागदौड़ में धूल मिट्टी के कारण बालों की जड़ों में चले जाते हैं। जिनसे हमारे बालों की जड़े कमजोर हो जाती हैं और बाल टूट कर बिखरने लगते हैं। इससे बचने के लिए लड़कियां हर प्रकार के कॉस्मेटिक प्रोडक्ट का इस्तेमाल करती हैं लेकिन प्राचीन समय में रानियां अपने बालों की खूबसूरती और लंबाई बढ़ाने के लिए उन्हें शहद और जैतून के तेल का इस्तेमाल करती थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *