पाकिस्तान में इस बार भी जमकर खेली जाएगी होली, सिंध प्रांत में रहेगी सरकारी छुट्टी

भारत-पाकिस्तान बंटवारे में कई हिन्दू परिवारों ने सीमा इस पार आने के बजाए पाकिस्तान में रहना मुनासिब समझा था। लेकिन भारत में उन परिवारों की स्वतंत्रता और उनके मौलिक अधिकारों की रक्षा को लेकर कई तरह की खबरें आती रहती हैं। इन्‍हीं में एक है होली का त्योहार मनाने की खबर। होली हिन्दू धर्म के सबसे प्रमुख दो त्योहारों में से एक है। यहां हम पाकिस्तान में रहने वाले हिन्दुओं की होली कैसे होती है, यह बता रहे हैं।

पाकिस्तान में करीबन दो फीसद आबादी अल्पसंख्यकों की है। इनमें हिंदुओं की संख्या सबसे ज्यादा सिंध प्रांत में बताई जाती है। पाकिस्तान में रहने वाले हिन्दुओं ने कई मर्तबे इसकी शिकायत की कि वहां होली तो मनाई जाती थी, लेकिन सरकारी छुट्टी ना होने से इसका मजा किरकिरा हो जाता था। लंबे समय तक इसके मांग के बाद साल 2016 से पाकिस्तान की सरकारी छुट्टी के कैलेंडर में होली को जगह मिली है। लेकिन केवल सिंध प्रांत में।

पिछले साल पाकिस्तान हिन्दू सेवा वेलफेयर ट्रस्ट के अध्यक्ष संजश धंजा ने बताया था, “हिन्दू पाकिस्तान के महज सिंध में ही नहीं, बल्कि पूरे देश में रहते हैं। ऐसे में होली के दिन पूरे देश में छुट्टी होनी चा‌हिए। इस बारे में देश के प्रधानमंत्री से भी बात की गई है।”

इतना ही पाकिस्तान में रहने वाले हिन्दुओं ने होली वाले महीने में एडवांस सैलेरी की भी मांग की थी। जानकारी के मुताबिक पिछले साल कराची स्थित एक हिन्दू मंदिर में होली मनाने के लिए करीब 500 लोग इकट्ठा हुए थे। तब वहां पूरे हिन्दू रीति-रिवाज से यह त्योहार मनाया गया था। बताया जाता है कि इसमें कुछ मुस्लिम परिवारों ने भी इसमें हिस्सा लिया था।

इतना ही पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी के बेटे व वर्तमान पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के मुखिया बिलावल भुट्टों को भी कुछ मौकों हिन्दू भाइयों के साथ होली खेलते देखे गए थे। इतना ही नहीं, एक पाकिस्तानी मुस्लिम युवक ने अपने फेसबुक अकाउंट पर होली से अपने प्यार के बारे में खुलकर लिखा था। वाहिद खान नाम के इस शख्स ने अपने फेसबुक पर लिखा था, “मैं अभी-अभी होली मनाकर लौट रहा हूं। मैं जानबूझ कर एक सार्वजनिक बस से यात्रा कर रहा हूं। मैं देखना और दिखाना चाहता हूं कि मैंने होली खेली है और इसे पर लोगों की क्या प्रतिक्रिया है। मैं इस वक्त पूरी तरह रंगों में डूबा हुआ हूं।”

इसी तरह पाकिस्तानी मीडिया संस्‍थान की ओर से साल 2017 में पाकिस्तानी होली की जारी की गई तस्वीरें और जानकारी के अनुसार, रामा पीर चौक समेत पाकिस्तान के कई हिस्से में होलिका दहन समेत पूरा होली त्योहार बड़े ही धूमधाम से मनाया गया था। इस मौके पर कई सांस्कृति कार्यक्रम भी आयोजित हुए थे।

=>
loading...