मोदी सरकार ने दिया बड़ा तोहफा, मिला हर महीने 30,000 रुपये कमाने तक का मौका !

मोदी सरकार के फिर से सत्ता में आते ही बेरोजगारों के लिए खुल गए हैं नए नए अवसर, जी हां अगर आप नौकरी नही बल्कि अपने खुद का कारोबार खोलना चाहते हैं, लेकिन आपको समझ नही आ रहा हैं कि क्या और कैसे करे, तो घबराइए मत, ऐसे में मोदी सरकार लेकर आई हैं एक स्कीम, जिससे कारोबार शुरू करने वालो को फायदा मिल सकता हैं।

दरअसल सरकार ने साल 2020 तक एक नई योजना के तहत देश में 2500 और  जन औषधि केंद्र खुलवाने का तय किया हैं, जिससे गरीब और मध्यम वर्गीय लोगों को अच्छी दवाईयां कम दाम पर मुहैया कराई जा सके। इसके अलावा हर ब्लॉक में सरकार सस्ती दवाओ का कम से कम एक केंद्र खोलना चाहती हैं, ताकि किसी भी क्षेत्र के लोगो को दवा और औषधियो के मामले में किसी भी तरह की कोई परेशानी न हो।

ऐसे में अगर आप भी चाहते हैं इस योजना का फायदा उठाना और अपने शहर या कस्बे में ही रहकर बेहतर रोजगार की तलाश कर रहे हैं तो इसके लिए आवेदन कर सकते हैं। आपको बता दे कि सरकार ने लोगो की तीन कैटेगरी बनाई हैं, जिसके तहत वो खुद का जन औषधि केंद्र खोल सकते हैं, पहली कैटेगरी में कोई भी व्यक्ति, बेरोजगार फार्मासिस्ट, डॉक्टर, रजिस्टर्ड मेडिकल प्रैक्टिशनर स्टोर खोल सकता हैं, जबकि दूसरी कैटेगरी में ट्रस्ट, एनजीओ, प्राइवेट हॉस्पिटल, सोसायटी और सेल्फ हेल्प ग्रुप को स्टोर खोलने का अवसर दिया गया हैं।

Loading...

वहीं तीसरी कैटेगरी में राज्य सरकारों द्वारा नॉमिनेट की गई एजेंसी होगी। इसके अलावा सटोर खोलने के लिए 120 वर्गफुट एरिया में दुकान होना जरूरी है। अब आप सोच रहे होंगे कि केंद्र खोलने से फायदा क्या मिलेगा, तो हम आपको बता दें कि जनऔषधि केंद्र खोलने पर 2.50 लाख रुपये की सहायता होगी। इन केंद्रों से दवा बेचने पर आपको दवाईयों पर 20 फीसदी मार्जिन के अलावा हर महीने की बिक्री पर अलग से 15 फीसदी इंसेंटिव मिलेगा, जिसकी अधिकतम सीमा 10 हजार रुपये प्रति माह होगी और ये तब तक मिलेगा जब तक कि बिक्री 2.50 लाख रुपये पूरे न हो जाएं।

यानि एक महीने में जितनी दवाईयों की बिक्री होगी, उसका 20 फीसदी कमीशन के तौर पर मिलेगा। जैसे अगर आप एक महीने में 1 लाख की दवा बेचते हैं तो आपको 20 हज़ार रूपये कमीशन के रूप में मिलेंगे। इतना ही नही ट्रेड मार्जिन के अलावा सरकार मंथली सेल्स पर 15 फीसदी इंसेंटिव देगी, जो आपके बैंक अकाउंट में आ जाएगा। अप्लाई करने के लिए ऑनलाइन और औफ्लाइन दोनो तरीको से ही आवेदन किया जा सकता है.

औषधि केंद्र के लिए आप ऑनलाइन आवेदन janaushadhi.gov.in  पर किया जा सकता है, इस वेबसाइट पर जाकर आनलाइन रजिस्ट्रेशन फार्म भर सकते हैं, जिसके बाद आप सारे जरूरी दस्तावेज अपलोड कर अपना फार्म सबमिट कर सकते हैं। औफ्लाइन आवेदन भरने के लिए आप इसी वेबसाइट से फॉर्म डाउनलोड करके भरने के बाद आवेदन को ब्यूरो ऑफ फॉर्मा पब्लिक सेक्टर अंडरटेकिंग ऑफ इंडिया के जनरल मैनेजर के नाम से भेज सकते है। तो ज्यादा समय न लेते हुए सरकार की इस योजना का फायदा उठाए और खोले खुद का बिज़नेस.

loading...
Loading...