इस मंदिर में माता के पैर छूने खुद आता है जंगल का राजा शेर, रात होते ही तैनात हो जाती है फोर्स

जंगल हो या पहाड़ जहां पर नजर जाता है एक मंदिर जरुर नजर आता है। हर मंदिर से जुड़ी कोई न कोई आस्था जरुर होती है। हर साल लाखों की संख्या में ऐसे भक्त होते हैं जो कोसो दूर जाकर मंदिर में दर्शन करते हैं। फिर मंदिर भले ही भारत के एक छोर से दूसरी छोर पर क्यों न हो। लेकिन आज हम आप को एक ऐसे मंदिर के बारे में बतानें वाले उसमें तो इंसान तो आतें हैं लेकिन रात होते ही मंदिर में जंगल के शेर भी दर्शन करने आते हैं।

भारत में भगवान के प्रति लोगो को बड़ी आस्था और विश्वास है। यह मंदिर हैं नेपाल के पास वाल्मीकि नगर के करीब NH 28 के बेहद करीब वाल्मीकि टाइगर रिजर्व की। इस टाइगर रिजर्व के जंगल के बीच बना है मदनपुर देवी का मंदिर। माँ मदनपुर देवी के दर्शन के लिए नेपाल और भारत से सैकड़ो की संख्या में श्रद्धालु आते हैं। लेकिन आपको जानकर बड़ी हैरानी होगी की इस मंदिर में इंसान के अलावा जंगल का राजा शेर भी आता है। आज भी इस मंदिर में रात होने के बाद जंगल के शेर आते हैं माता के दर्शन करने। यहां रात होते ही पुलिस के जावान तैनात हो जातें हैं।

कहा जाता है की इस मंदिर में एक पुजारी थे। जिनके इशारे पर जंगल के शेर भी नाचा करते थे। जब राजा को इस बात की जनकारी मिली तो वो पुजारी के पास आया और माता के दर्शन की बात कहने लगा। उसे मंदिर के पुजारी ने लाख समझया लेकिन उसने एक न मानी। फिर क्या उसके बाद अचानक मंदिर के पुजारी रासो का सर अपने आप फट गया और उसमें से एक हाथ निकला। लेकिन इस घटना के बाद तुरंत राजा का पूरा साम्राज्य खत्म हो गया लेकिन इस विनाश में रानी अपने मायके में थी जिसके कारण वो बच गई। आज भी उनके वंशज हैं।

=>
loading...