भगवान शिव के 7 प्राचीन मंदिर जहां देश-विदेश से दर्शन करने आते हैं लोग

आज सोमवार है। आज भगवान शिव की पूजा की जाती है। आज हम आपको भारत के सबसे प्रसिद्ध और प्राचीन मंदिरों के बारे में बताने जा रहे हैं। इन मंदिरों में भगवान शिव के दर्शन करने के लिए श्रद्धालु देश से नहीं बल्कि विदेशों से भी आते हैं।

1.काशी विश्‍वनाथ मंदिर बनारस : पिछले सैंकड़ों सालों से वाराणसी में स्थित काशी विश्वनाथ मंदिर बारह ज्योतिर्लिंगों में से एक है। वाराणसी के इस मंदिर को देखने और भगवान शिव के दर्शन करने के लिए पर्यटक दूर-दूर से आते हैं। कहते हैं भगवान शिव ने स्वयं ये ज्योतिर्लिंग स्थापित किया था।

2. केदारनाथ मंदिर : बाबा केदारनाथ मंदिर भी भारत के सबसे प्रसिद्ध शिव मंदिरों में से एक हैं। मगर इस खास मंदिर के द्वार सिर्फ अप्रैल से लेकर नवंबर महीने में ही खोले जाते हैं। यहां भैसें के पिछले हिस्से की पूजा की जाती है।

3. अमरनाथ गुफा : अमरनाथ की गुफा में बाबा बर्फानी विराजते हैं। यह भारत के और भगवान शिव के मुख्य धार्मिक स्थलों में से एक अमरनाथ के दर्शन करने के लिए भी पर्यटक दूर-दूर से आते हैं।

4-लिंगराज मंदिर, ओडिशा : ओडिशा में स्थित भगवान शिव का लिंगराज मंदिर भी सबसे प्राचीन और खूबसूरत मंदिरों में से एक है। इस विशाल मंदिर को देखने और भगवान शिव के दर्शन करने के लिए टूरिस्ट सिर्फ देश से ही नहीं बल्कि विदेश से भी आते हैं।

5. आंध्र प्रदेश , मल्लिकार्जुन : आंध्र प्रदेश के कुरनूल इलाके में स्थित भगवान शिव का यह मंदिर भी बहुत प्रचीन है। इस मंदिर में की गई तरह-तरह की नक्काशी टूरिस्ट को अपनी तरफ आकर्षित करती है।

6. कर्नाटक, मुरुदेश्वर शिव मंदिर : अरब सागर के तट पर स्थित इस मंदिर में भगवान शिव की दूसरी सबसे बड़ी मूर्ति स्थापित है। सुदंर और शांत वातावरण से घिरे इस मंदिर में एक बार आने के बाद आपका यहां से जाने का मन नहीं करेगा।

7. तमिलनाडु, रामेश्वरम : तमिलनाडु के रामनाथपुरम जिले में स्थित शिव का यह मंदिर चारों धामों की यात्रा में से एक है। इसके अलावा यहां स्थापित शिवलिंग बारह द्वादश ज्योतिर्लिंगों में से एक माना जाता है।

=>
loading...