पूर्व कमिश्नर मारिया का एक और दावा- पुलिस को थी गुलशन कुमार की हत्या की साजिश की जानकारी

मुंबई पुलिस के पूर्व कमिश्नर राकेश मारिया ने अपनी किताब ‘लेट मी से इट नाऊ’ में मुंबई आतंकी हमले को हिंदू आतंकवाद का रंग देने की लश्कर की साजिश बताया तो हंगामा खड़ा हो गया। अब मारिया ने गायक गुलशन कुमार को लेकर नया दावा किया है। उन्होंने ने अपनी किताब में मशहूर गायक और टी-सीरीज के मालिक रहे गुलशन कुमार की हत्या को लेकर कहा कि मुंबई पुलिस को इसकी साजिश का पता था, मगर उन्हें नहीं बचाया जा सका।  एक अंग्रेजी दैनिक ने राकेश मारिया के किताब के हवाले से लिखा है कि उन्हें गुलशन कुमार को मारने की अबु सलेम की साजिश की जानकारी पहले मिल गई थी। उन्होंने दावा किया गुलशन कुमार की हत्या की साजिश के बारे में खबरी ने उन्हें जानकारी दी थी। जब उन्होंने खबरी से पूछा कि इसके पीछे कौन है तो जवाब मिला- अबु सलेम।
Image result for rakesh maria book

दरअसल, मारिया उस वक्त डायरेक्टर जनरल के पद पर थे, जब उन्हें 22 अप्रैल 1997 को एक खबरी से कॉल आया और उसने गुलशन कुमार की हत्या की साजिश की जानकारी दी। जब मारिया ने उससे पूछा कि इसके पीछे कौन है तो खबरी ने जवाब दिया- अबु सलेम। खबरी ने यह भी बताया कि गैंगस्टर सलेम ने अपने शूटर्स के साथ गुलशन कुमार को शिव मंदिर जाने के दौरान मारने की पूरी योजना भी बना ली है, क्योंकि गुलशन कुमार हर रोज शिव मंदिर जाते थे।
Image result for gulshan kumar murder

Loading...

सुबह में मारिया ने निर्दशक महेश भट्ट को कॉल किया और उन्होंने कुमार से पूछकर पुष्टि की कि वह रोज शिव मंदिर जाते हैं। भट्ट ने गुलशन कुमार को साजिश की बात बता दी। मारिया ने भट्ट को कहा कि वह क्राइम ब्रांच को सूचित कर देंगे और कुमार को जब तक सुरक्षा नहीं मिल जाती, तब तक वह घर से बाहर नहीं निकलेंगे। इसके बाद क्राइम ब्रांच ने कुमार की सुरक्षा बढ़ा दी। 12 अगस्त 1997 को शिव मंदिर से आते वक्त गुलशन कुमार की गोली मार कर हत्या कर दी गई। मारिया ने पाया कि नोएडा में स्थित कुमार के कैसेट फैक्ट्री में उत्तर प्रदेश पुलिस की ओर से सुरक्षा प्रदान करने के बाद मुंबई पुलिस ने उनकी सुरक्षा हटा ली थी।

loading...
Loading...